औरैया :ईदगाह में नही अदा हुई ईद -उल- जुहा की नवाज
औरैया :ईदगाह में नही अदा हुई ईद -उल- जुहा की नवाज
उत्तर-प्रदेश

औरैया :ईदगाह में नही अदा हुई ईद -उल- जुहा की नवाज

news

जामा मस्जिद में भी सामूहिक रूप से नही पढ़ी गयी ईद उल जुहा की नमाज कोरोना महामारी के डर से एक दूसरे से गले नहीं मिले लोग हाथ मिलाने से भी किया परहेज औरैया, 01 अगस्त (हि. स.)।कोरोना महामारी के फ़ैलाव को रोकने के लिए लगाये गए अनलॉक-3 के चलते शनिवार को ईद-उल-ज़ुहा का त्यौहार नहीं मनाया जा सका, खेल खिलौने न मिलने से बच्चों में मायूसी दिखी, लोगो ने गले मिलने और हाथ मिलाकर मुबारकबाद देने से भी परहेज किया। शनिवार को बकरीद के त्यौहार पर मुस्लिम समुदाय में कोई खुशी देखने को नहीं मिली जबकि ईद के त्यौहार की तरह बकरीद की भी तैयारी भी कई दिन पहले से ही शुरु हो जाती है लेकिन इस वर्ष कोविड-19 महामारी के कारण शनिवार को मनाया गया, बकरीद का पर्व फीका रहा लाकडाउन के कारण ईदगाह में सामूहिक रूप से नमाज ए ईद अदा नहीं की जा सकी हर वर्ष ईद और बकरीद के दिन गुलजार हो जाने वाली ईदगाह इस वर्ष दोनों ही पर्व पर सूनी पड़ी रही। महामारी के डर से बकरीद के दिन भी लोग एक दूसरे से गले नहीं मिले हाथ मिलाकर भी मुबारकबाद देने से परहेज किया। बकरीद के दिन ईदगाह पर एवं जगह जगह लगने वाले छोटे छोटे मेले भी नहीं लग सके जिससे बच्चे खेल खिलौने न खरीद पाने से मायूस रहे। इस वर्ष बकरीद के दिन बड़ो के अलावा बच्चे भी नए कपडों में नहीं दिखे किसी के चेहरे पर खुशी के भाव नहीं दिखे, त्यौहार का कोई उत्साह नहीं दिखाई दिया तथा बकरीदके दिन गुलजार रहने वाली सड़के और गलियों में भी हफ्ते के मिनी लाकडाउन के कारण सन्नाटा पसरा रहा। बकरीद के दिन पुलिस प्रशाशन मुस्तैद रहा जिले के सभी नगर में तीन स्थानों पर ईद उल जुहा की नमाज अदा की जाती है नगर के बाहर स्थित ईदगाह पर तथा मुहल्ला बाबा का पुर्वा स्थित ईदगाह पर एक ही वक्त में नमाज ए ईद अदा होती है इसके एक घण्टा बाद आस्तनाआलिया पर नमाज अदा होती है जहांतीनो स्थानों पर पुलिस का सख्त पहरा बना रहा। हिन्दुस्थान समाचार/सुनील/मोहित-hindusthansamachar.in