डॉ अंबेडकर का जीवन शोषित एवं वंचितों के प्रति समर्पित रहा : गणेश केसरवानी

डॉ अंबेडकर का जीवन शोषित एवं वंचितों के प्रति समर्पित रहा : गणेश केसरवानी
dr-ambedkar39s-life-was-devoted-to-the-downtrodden-and-the-deprived-ganesh-kesarwani

समरसता दिवस के रूप में भाजपाइयों ने मनाई डॉ अंबेडकर की जयंती प्रयागराज, 14 अप्रैल (हि.स.)। भाजपा महानगर अध्यक्ष गणेश केसरवानी के नेतृत्व में बुधवार को भारतीय संविधान के शिल्पी डॉ. भीमराव अंबेडकर की 130वीं जयंती समरसता दिवस के रूप में मनाई गई। उन्होंने कहा कि डॉ. अंबेडकर का सम्पूर्ण जीवन इस देश के शोषित एवं वंचित रहे लोगों को अधिकार दिलाने के प्रति समर्पित रहा। वह इस राष्ट्र के एक सच्चे नायक थे। महानगर अध्यक्ष ने दरियाबाद स्थित अंबेडकर जयंती समारोह में कहा कि उन्होंने जो समाज के अंदर भेदभाव से पीड़ित वर्ग के लोग थे उनके अधिकारों की समानता के लिए लड़ाई लड़ते रहे और आज उनके सपनों को पूरा करने के लिए भारतीय जनता पार्टी की सरकार निरंतर गरीबों, शोषित, वंचितों के अधिकारों की रक्षा करते हुए उनके जीवन में गुणात्मक परिवर्तन ला रही है। भाजपा मीडिया प्रभारी राजेश केसरवानी ने बताया कि भाजपा द्वारा कार्यक्रम का शुभारम्भ हाईकोर्ट स्थित डॉ.भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के साथ किया गया। महानगर प्रयागराज के 1252 बूथों पर डॉ. भीमराव अंबेडकर की सचित्र पर पुष्प अर्पित करते हुए उनके जीवन पर दर्शन डालते हुए कार्यक्रम का आयोजन बूथ अध्यक्ष एवं बूथ प्रभारियों की देखरेख में किया गया। उन्होंने बताया कि भाजपा युवा मोर्चा, पिछड़ा मोर्चा, महिला मोर्चा, अनुसूचित मोर्चा के कार्यकर्ताओं द्वारा गरीबों की बस्तियों में जाकर सेवा का कार्य किया गया। कार्यक्रम के मुख्य आयोजक भाजपा के सभी मंडल अध्यक्ष रहे। हिन्दुस्थान समाचार/विद्या कान्त