कानपुर में दहेज लोभी दूल्हे ने बारात लाने से किया इंकार, दुल्हन ने दर्ज कराया मुकदमा

कानपुर में दहेज लोभी दूल्हे ने बारात लाने से किया इंकार, दुल्हन ने दर्ज कराया मुकदमा
dowry-greedy-groom-refused-to-bring-a-wedding-procession-in-kanpur-bride-lodged-a-case

— मंडप पर शादी के लिए दुल्हन के जोड़े में इंतजार कर रही लड़की के मोबाइल पर मैसेज कर न आने की दुल्हे ने दी जानकारी कानपुर, 29 अप्रैल (हि.स.)। कोरोना संक्रमण के कारण लोगों का जीवन पहले ही अस्त-व्यस्त है। ऐसे में कानपुर में एक दूल्हे को तय तारीख पर बारात न लाना महंगा पड़ गया। बारात न आने से नाराज लड़की के परिवारजनों ने पनकी थाने में दूल्हे के खिलाफ दहेज मांगने की तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कराया है। पनकी थाना क्षेत्र के गंगागंज में रहने वाले पिता दयाल सिंह ने अपनी बेटी पुष्प्रभा सिंह की शादी रामादेवी सनिगवां के रहने वाले हजकुमार सिंह के बेटे क्रांति सिंह के साथ तय की थी। शादी की बात दिसम्बर से चल रही थी। दुल्हन की माने तो पहले उसने शादी करने से मना कर दिया था। पर लड़के के बार-बार मैसेज करने और फोन पर बात करने पर लड़की ने हां कर दी। उसके बाद लड़के वाले बराबर अतिरिक्त दहेज की मांग करने लगे। लड़की के पिता ने जैसे-तैसे कर पूरा इंतजाम किया और दहेज में 12 लाख की कार भी दे दी। 28 अप्रैल को लड़के को शादी लेकर आना था और लड़की भी शादी के लिए ब्यूटी पार्लर में तैयार होकर मंडप पर पहुंच गई, तभी लड़की के मोबाइल पर लड़के का मैसेज आया कि शादी कैंसिल हो गई है, इसलिए बारात लेकर आज वह लोग नहीं आएंगे। इस बात से लड़की ने परिवार के लोगों को अवगत कराया। परिजनों ने पनकी पुलिस को इसकी जानकारी दी। पुलिस को लड़के पक्ष की तरफ से दहेज की मांग किए जाने का आरोप लगाते हुए दुल्हन पक्ष की ओर से तहरीर दी गई। लड़की के पिता ने बताया कि शादी के लिए अधिकारियों के चक्कर लगाने के बाद बड़ी मुश्किल से विभाग की ओर अनुमति मिली थी। इस बात की दूल्हे के परिवारजनों को पहले ही बता दिया गया था, बावजूद इसके उन्होंने समय से कोई सूचना नहीं दी। इस पर शादी के लिए तैयार बैठी दुल्हन ने लड़के वालों पर तीस लाख रुपये दहेज में मांगने का आरोप लगाया है और इस मामले में गुरुवार को कल्याणपुर सर्किल के एसीपी दिनेश कुमार शुक्ला ने बताया कि लड़की पक्ष की ओर से मिली तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया गया है। मामले की छानबीन की जा रही है। जांच के आधार पर विधिक कार्रवाई की जाएगी। हिन्दुस्थान समाचार/महमूद/मोहित