demand-for-full-opening-of-bhu-students-protest-for-the-second-consecutive-day
demand-for-full-opening-of-bhu-students-protest-for-the-second-consecutive-day
उत्तर-प्रदेश

बीएचयू को पूर्ण रूप से खोलने की मांग कर छात्रों ने लगातार दूसरे दिन भी दिया धरना

news

-सिंहद्वार बंद होने से राहगीरों को हुई परेशानी,एंबुलेंस को दिया रास्ता वाराणसी,23 फरवरी (हि.स.)। काशी हिन्दू विश्वविद्यालय (बीएचयू) को पूर्ण रूप से खोलने की मांग को लेकर छात्रों ने लगातार दूसरे दिन मंगलवार को भी लंका स्थित विश्वविद्यालय के सिंह द्वार पर धरना दिया। पूरी रात सिंहद्वार पर बैठे छात्रों ने बीच-बीच में सिंह द्वार को बंद कर दिया, जिससे उधर से गुजरने वाले लोगों को काफी परेशानी उठानी पड़ी। एम्बुलेंस और अन्य आपातकालीन सेवाओं से जुड़े वाहनों को छात्र आने-जाने दे रहे थे। सोमवार दोपहर और रात में भी विश्वविद्यालय प्रशासन के अधिकारी मौके पर छात्रों को समझाने बुझाने के लिए पहुंचे थे। लेकिन, आक्रोशित छात्र पूरी तरह परिसर को खोलने की मांग पर अड़े रहे। पूरी रात छात्रों के प्रदर्शन को देख वहां सुरक्षा का व्यापक प्रबंध किया गया है। प्रदर्शनकारी छात्र सिंह द्वार पर अनलाक बीएचयू जैसे बड़े-बड़े पोस्टर और बैनर भी टांग दिए हैं। धरना प्रदर्शन में पहले और दूसरे वर्ष के छात्र शामिल है। आंदोलनरत छात्रों ने चेतावनी दी है कि अभी यह आंदोलन और लंबा और तेज चलने वाला है। उधर,बीएचयू प्रशासन ने छात्रों के प्रदर्शन को देख बयान जारी कर कहा है कि विश्वविद्यालय का चरणबद्ध तरीके से खुलना छात्र हित में है। मुख्य द्वार पर रास्ता बंद करने से आमजन और अस्पताल में आने वाले मरीजों को काफी असुविधा हुई है। छात्रों के स्वास्थ्य और सुरक्षा से कोई समझौता नहीं किया जा सकता है। इसलिए छात्रों के हित में भारत सरकार के दिशा निर्देशों का पालन करते हुए विश्वविद्यालय को चरणबद्ध तरीके से खोलने का निर्णय किया गया। भविष्य में भी स्थिति सुधारने पर कोई विचार किया जाएगा। छात्र-छात्राओं से अपील की जाती है कि वे विश्वविद्यालय के शैक्षणिक वातावरण को बनाए रखे। हिन्दुस्थान समाचार/श्रीधर/संजय

AD
AD