उत्तर प्रदेश में चक्रवाती हवाओं से गिरेगा तापमान, लू से राहत मिलने की संभावना

उत्तर प्रदेश में चक्रवाती हवाओं से गिरेगा तापमान, लू से राहत मिलने की संभावना
cyclonic-winds-will-hit-temperatures-in-uttar-pradesh-possibility-of-relief-from-heatstroke

— आसमान साफ रहने के साथ शुष्क रहेगा मौसम कानपुर, 01 अप्रैल (हि.स.)। होली के बाद से मौसम में लगातार बदलाव हो रहा है और अब राजस्थान के ऊपर सक्रिय चक्रवात तेज हवाएं ला रहा है। इससे आगामी दो से तीन दिनों तक तापमान गिरेगा और लोगों को लू से राहत मिलने की संभावना है। हालांकि तापमान गिरने की स्थिति अधिक दिनों तक नहीं रहने वाली है, क्योंकि संभावित पश्चिमी विक्षोभ मैदानी क्षेत्रों में नमी लेकर नहीं आया है। मौसम विभाग ने संभावना जताई थी कि होली के बाद एक पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत में सक्रिय होने जा रहा है, जिससे मैदानी क्षेत्रों के वातावरण में नमी की मात्रा बढ़ जाएगी और तापमान में गिरावट हो जाएगी। लेकिन ऐसा नहीं हो सका और पश्चिमी विक्षोभ पहाड़ी क्षेत्रों तक ही सीमित रह गया। हालांकि इन दिनों राजस्थान के ऊपर चक्रवाती हवा का क्षेत्र विकसित हो गया है। इसकी वजह से मैदानी क्षेत्रों में धूलभरी आंधी चलनी शुरु हो गई है। अधिकतम और न्यूनतम तापमान में उतार चढ़ाव हो रहा है। गुरुवार और शुक्रवार को तेज हवाओं के चलते तीन से पांच डिग्री सेल्सियस तापमान गिरने की संभावना है। शुक्रवार के बाद फिर से तापमान बढ़ेगा और लोगों को लू परेशान करेगी। चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक डा. एसएन सुनील पाण्डेय ने गुरुवार को बताया कि उत्तर भारत के मैदानी इलाकों वाले राज्यों में अगले दो दिनों में गर्मी से थोड़ी राहत मिल सकती है। अगले तीन दिनों में पांच डिग्री तक तापमान गिर सकता है। हालांकि ये राहत बहुत कम समय के लिए होगी और तीन अप्रैल से लू के चलने का सिलसिला फिर से शुरु हो जाएगा। बताया कि बीते सप्ताह देश के कई राज्यों में गर्मी ने हाल बेहाल कर दिया था। ओडिशा में तापमान 44 डिग्री के पार पहुंच गया तो वहीं राजस्थान में 43 डिग्री सेल्सियस तक तापमान पहुंच गया था। इसके पीछे पश्चिमी विक्षोभ का मैदानी इलाकों में नमी लेकर न आना था और तापमान में बढ़ोतरी हो गई। बताया कि कानपुर परिक्षेत्र में अधिकतम तापमान 36.2 और न्यूनतम तापमान 18.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि उत्तर प्रदेश का औसत तापमान अधिकतम और न्यूनतम 30 और 13 डिग्री सेल्सियस रहा। हवा की दिशाएं उत्तर पश्चिमी हैं जिनकी रफ्तार करीब 11 किमी प्रति घंटा है। आगामी सप्ताह में मध्य उत्तर प्रदेश के ब्लॉक एवं जिला स्तर पर आसमान साफ रहेगा, लेकिन हवाओं की गति सामान्य से तेज रहने के आसार हैं। हिन्दुस्थान समाचार/अजय/मोहित