हाईकोर्ट ने प्रमुख सचिव आयुष विभाग प्रशांत त्रिवेदी को किया तलब
हाईकोर्ट ने प्रमुख सचिव आयुष विभाग प्रशांत त्रिवेदी को किया तलब
उत्तर-प्रदेश

हाईकोर्ट ने प्रमुख सचिव आयुष विभाग प्रशांत त्रिवेदी को किया तलब

news

प्रयागराज, 01 अगस्त (हि.स.)। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने प्रशान्त त्रिवेदी प्रमुख सचिव आयुष विभाग लखनऊ को हाईकोर्ट के आदेश का पालन न करने पर 21 अगस्त को हाजिर होने का निर्देश दिया है और पूछा है कि क्यों न उनके विरुद्ध अवमानना आरोप निर्मित किया जाय। कोर्ट ने संयुक्त निबंधक अनुपालन को आदेश की जानकारी प्रमुख सचिव को 72 घंटे में तामील करने का आदेश दिया है। यह आदेश न्यायमूर्ति जे जे मुनीर ने श्रीमती रेखा श्रीवास्तव की अवमानना याचिका पर दिया है। कोर्ट ने याची को मृतक आश्रित कोटे में तृतीय श्रेणी पद पर नियुक्त करने का आदेश दिया था। विभाग द्वारा चतुर्थ श्रेणी पद पर नियुक्ति को अस्वीकार करते हुए याची ने तृतीय श्रेणी पद पर नियुक्ति की मांग की थी। कोर्ट ने कहा था कि पद खाली न हो तो सुपरन्यूमेनरी पद पर नियुक्ति की जाय। इस आदेश का पालन नहीं किया गया तो अवमानना याचिका दाखिल की गयी। कोर्ट ने निदेशक आयुर्वेदिक सेवा निदेशालय को निर्णय लेने का निर्देश दिया तो उन्होंने उसी आधार पर तृतीय श्रेणी पद पर नियुक्ति से इंकार कर दिया जिसे कोर्ट ने नही माना था। कोर्ट ने निदेशक एस.एन सिंह को प्रथम दृष्टया अवमानना का दोषी करार दिया और आरोप निर्मित करने के लिए तलब किया तो कहा गया कि शासन स्तर पर अनुमोदन होना है। कोर्ट ने प्रमुख सचिव को पक्षकार बनाया और नोटिस जारी की। किन्तु कोई जवाब नही आया तो कोर्ट ने सख्त रूख अपनाया है और प्रमुख सचिव को हाजिर होने का निर्देश दिया है। हिन्दुस्थान समाचार/आर.एन/दीपक-hindusthansamachar.in