कोविड जांच की निगेटिव रिपोर्ट पर ही मतगणना एजेंट को मिलेगा प्रवेश : एडीएम

 कोविड जांच की निगेटिव रिपोर्ट पर ही मतगणना एजेंट को मिलेगा प्रवेश : एडीएम
counting-agent-will-get-admission-only-on-negative-report-of-kovid-investigation-adm

- जनपद में सेक्टर प्रणाली लागू, मजिस्ट्रेट नामित हमीरपुर, 29 अप्रैल (हि.स.)। अपर जिलाधिकारी नमामि गंगे/उप जिला निर्वाचन अधिकारी राजेश कुमार यादव ने त्रिस्तरीय पंचायत सामान्य निर्वाचन 2021 के अंतर्गत मतगणना प्रक्रिया को शांतिपूर्ण स्वतंत्र तथा निष्पक्ष ढंग से संपन्न कराने हेतु समस्त उम्मीदवारों एवं उनके निर्वाचन अभिकर्ता एवं मतगणना अभिकर्ताओं को सूचित किया है। कोविड-19 के संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए वे अपना एवं अपने निर्वाचन/मतगणना अभिकर्ता का गणना एजेंट हेतु कोविड की जांच करा लें। मतगणना केंद्र पर केवल उन्हीं निर्वाचन/मतगणना अभिकर्ताओं को प्रवेश दिया जाएगा जिनके पास कोविड-19 की निगेटिव जांच रिपोर्ट होगी। त्रिस्तरीय पंचायत सामान्य निर्वाचन के समस्त उम्मीदवारों एवं उनके निर्वाचन मतगणना अभिकर्ताओं को सूचित किया है कि मतगणना दो मई को मतगणना स्थल पर प्रवेश के लिए कोरोना नेगेटिव जांच रिपोर्ट प्रस्तुत किए जाने पर ही संबंधित निर्वाचन अधिकारी द्वारा एजेंट बनाया जा सकेगा। बिना कोविड की निगेटिव जांच रिपोर्ट संबंधित निर्वाचन अधिकारी द्वारा किसी भी प्रत्याशी का एजेंट नहीं बनाया जाएगा। उन्होंने यह भी बताया कि मतगणना स्थल पर कोविड नियमों का पालन कराने हेतु सोशल डिस्टेंसिंग रखी जाएगी। मतगणना स्थल पर दो गज की दूरी का पालन करते हुए मतगणना अभिकर्ता दो गज की दूरी पर चिन्हित गोले में रखी गई कुर्सियों में ही बैठेंगे। उन्होंने जन सामान्य को सूचित करते हुए बताया कि कोरोना के संक्रमण से बचाव एवं नियंत्रण हेतु जनपद में बाहर से आने वाले प्रवासियों/ मजदूरों/व्यक्तियों की सूचना हेतु ग्राम/मोहल्ला निगरानी समितियों का गठन किया गया है। निगरानी समितियों के माध्यम से बाहर से आने वाले व्यक्तियों की सूचना पर चिकित्सा विभाग द्वारा उनकी कोविड-19 जांच कराई जाएगी। बाहर से आए व्यक्ति जो कोविड के लक्षण युक्त हैं उन्हें उनके घर पर सुविधाएं उपलब्ध होने पर होम कोरेंटाइन एवं घर पर सुविधाएं न होने पर इंस्टीट्यूशनल कोरेंटिन किया जाएगा। लक्षण विहीन व्यक्तियों को 1 सप्ताह अपने घर पर ही रहने की सलाह दी जाएगी। जनपद में सेक्टर प्रणाली लागू कर मजिस्ट्रेट की नियुक्ति कर दी गई है नामित मजिस्ट्रेट कोविड चिकित्सालयों में कोविड-19 गाइडलाइन एवं शासन के निर्देशों के अनुरूप मरीजों का आवश्यक उपचार, भोजन, साफ-सफाई, ऑक्सीजन आपूर्ति, वेंटिलेटर आदि की सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराएंगे। जिस किसी भी व्यक्ति को कोविड-19 अस्पतालों में बेडों की उपलब्धता एवं भर्ती होने की जानकारी चाहिए वह जिलाधिकारी कार्यालय में स्थापित कंट्रोल रूम नंबर 05282 -224543/ 224542 / 222330/225491 पर संपर्क कर सकता है। जनपद में सैनिटाइजेशन हेतु ग्रामीण क्षेत्रों में 25 एवं शहरी क्षेत्रों में 13 टीमें लगाई गई हैं इन टीमों के माध्यम से सैनिटाइजेशन का कार्य कराया जा रहा है। कोविड के नियंत्रण हेतु जनपद के ग्रामीण क्षेत्र में 330 एवं नगरीय क्षेत्र में 124 कुल 453 सर्विलांस टीम कार्य कर रही हैं। सभी टीमों के पास इंफ्रारेड थर्माेमीटर एवं पल्स ऑक्सिमिटर उपलब्ध है। क्षेत्र में भ्रमण के दौरान सर्विलांस टीम द्वारा लक्षण युक्त व्यक्तियों को चिन्हित कर उनकी कोविड जांच कराई जाती है तथा भ्रमण के दौरान लक्षण पाए जाने पर प्रारंभिक स्तर पर दवाइयां उपलब्ध कराई जाती हैं। हिन्दुस्थान समाचार/पंकज