Counseling for happy family on Prime Minister's Safe Motherhood Campaign Day
Counseling for happy family on Prime Minister's Safe Motherhood Campaign Day
उत्तर-प्रदेश

प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस पर खुशहाल परिवार के लिए परामर्श

news

- सभी प्रसव पूर्व जांच हुई फ्री, उच्च जोखिम गर्भावस्था वाली महिलाओं को किया गया चिन्हित वाराणसी, 09 जनवरी (हि.स.)। प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस पर शनिवार को जिले के सभी सरकारी अस्पतालों,स्वास्थ्य केन्द्रों व उपकेन्द्रों पर गर्भवती की स्वास्थ्य जांच के बाद प्रसव पूर्व सभी जांच हुई। कबीरचौरा स्थित जिला महिला चिकित्सालय,राम नगर स्थित लाल बहादुर शास्त्री चिकित्सालय, ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र के सभी प्राथमिक एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों व उपकेन्द्रों पर परिवार नियोजन.के लिए परामर्श भी दिया गया। सभी केन्द्रों पर आईं गर्भवती महिलाओं की महिला चिकित्सकों ने प्रसव पूर्व जांच ब्लड टेस्ट, यूरिन, ब्लड प्रेशर, मधुमेह, सिफ़लिस, हीमोग्लोबिन जांच और अल्ट्रा साउंड भी निःशुल्क किया गया। व्यवस्था को परखने के लिए मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ वीबी सिंह ने नगरीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चौकाघाट का निरीक्षण भी किया। निरीक्षण के बाद उन्होंने बताया कि मातृ एवं शिशु मृत्यु दर को कम करने, गर्भवती की बेहतर स्वास्थ्य देखभाल, प्रसव पूर्व जांच एवं उन्हें समय पर उचित इलाज मुहैया कराने के लिए प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस प्रत्येक माह की नौ तारीख को मनाया जाता है। दिवस पर जांच के बाद उच्च जोखिम गर्भावस्था, एचआरपी वाली महिलाओं को चिन्हित किया गया और उन्हें उच्च स्तरीय इकाई पर संदर्भित करने के साथ आवश्यक चिकित्सीय व पोषण परामर्श भी दिया गया। उन्होंने बताया कि सभी स्वास्थ्य इकाइयों पर एक अलग स्टॉल लगाकर परिवार नियोजन कार्यक्रम के तहत खुशहाल परिवार के उद्देश्य से जरूरी परामर्श देने की शुरुआत भी की गयी । जिसमें महिलाओं को स्थायी और अस्थायी नियोजन साधनों को लेकर जानकारी दी गयी। उन्होंने बताया कि निजी क्षेत्र से स्वयं सेवा करने वाले चिकित्सकों द्वारा भी काफी सराहनीय सहयोग किया गया। इसमें महिला एवं स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ श्वेता मिश्रा, डॉ स्मिता टंडन, डॉ सारिका सिंह, डॉ बानी, डॉ मधुलिका ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया। अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. राजेश प्रसाद ने बताया कि आराजीलाइन सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर 210 महिलाओं की प्रसव पूर्व जांच, एएनसी जांच की गई। जिसमें 39 महिलाएं एचआरपी के लिए चिन्हित की गईं। इसके साथ ही बड़ागांव सीएचसी पर 150 महिलाओं की एएनसी जांच में 13 एचआरपी, चिरईगांव पीएचसी पर 180 महिलाओं की एएनसी जांच में 29 एचआरपी, चोलापुरा सीएचसी पर 160 महिलाओं की एएनसी जांच में 14 एचआरपी, हरहुआ पीएचसी पीएचसी पर 157 महिलाओं की एएनसी जांच में 19 एचआरपी, काशी विद्यापीठ पीएचसी पर 128 महिलाओं की एएनसी जांच में 13 एचआरपी, पिंडरा पीएचसी पर 146 महिलाओं की एएनसी जांच में 25 एचआरपी, सेवापुरी पर 166 महिलाओं की एएनसी जांच में 38 एचआरपी, एलबीएस चिकित्सालय 23 महिलाओं की एएनसी जांच में 6 एचआरपी, जिला महिला चिकित्सालय में 190 महिलाओं की एएनसी जांच में 30 महिलाओं को एचआरपी के लिए चिन्हित किया गया। उन्होने बताया कि इस योजना के तहत पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप के तहत रेडियोलोजिस्ट को भी जोड़ा गया है जो अपने केन्द्रों पर गर्भवती को निःशुल्क अल्ट्रासाउंड की सुविधा प्रदान करते हैं। लाभार्थी भी गदगद प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस पर सीएचसी अराजीलाइन पर जांच कराने आयी लाभार्थी मेहदीगंज निवासी मीना कुमार 26 वर्ष ने कहा कि इस दिवस एक साथ बहुत सी जाँचें हो जाती हैं और किसी भी प्रकार की समस्या होने पर उसका उपचार और परामर्श भी मिल जाता है। राजातालाब निवासी लाभार्थी बबीता देवी 23 वर्ष ने कहा कि सरकार द्वारा चलायी जा रही इस योजना से सभी गर्भवती को बेहतर निःशुल्क स्वास्थ्य सुविधा का लाभ मिल रहा है। सभी प्रकार की जाँचे और दवाएं मुफ्त मिल जाती हैं। हिन्दुस्थान समाचार/श्रीधर-hindusthansamachar.in