कोरोना से बचाव के लिए स्वप्रेरणा से करें निर्देशों का पालन - जिलाधिकारी
कोरोना से बचाव के लिए स्वप्रेरणा से करें निर्देशों का पालन - जिलाधिकारी
उत्तर-प्रदेश

कोरोना से बचाव के लिए स्वप्रेरणा से करें निर्देशों का पालन - जिलाधिकारी

news

-शासन द्वारा जारी गाइडलाइन व जिला प्रशासन की अपील के पालन से ही कोरोना से मिलेगी मुक्ति -कोरोना के लक्षण दिखाई देने के बाद स्टैटिक जांच केन्द्र पर करायें जांच फतेहपुर, 23 जुलाई (हि.स.)। शासन द्वारा जारी गाइडलाइंस के बाद भी जनपद के लोग अपनी अपनी खिचड़ी अलग ही पका रहे हैं। जबकि महामारी धीरे-धीरे जनपद को पूरी तरह से जकड़ रही है। जिलाधिकारी संजीव सिंह द्वारा बार-बार अपील करने के बाद भी जनपदवासी शारीरिक दूरी बनाने से लेकर मॉस्क या गमछे से मुंह ढक कर बाहर निकलने में अभी भी लोग लापरवाही बरत रहे हैं। जिसके कारण जिले की स्थिति भयावह होती जा रही है। अब जरूरत है सभी को एकजुट होकर इस महामारी से लड़ने की। इस लड़ाई में तभी सफल हो पाएंगे जब प्रदेश सरकार की सभी गाइडलाइंस का पालन हम पूरी ईमानदारी के साथ करें। कोरोना महामारी हर एक व्यक्ति के दरवाजे के सामने मुंह बाए खड़ी हुई है। फिर भी हम लापरवाही पर लापरवाही बरतने का काम कर रहे हैं जबकि सभी लोगों को इस बात की जानकारी है कि इस महामारी की चपेट में आने के बाद इसकी कोई सटीक दवा नहीं है। सावधानी से ही इस महामारी से बचा जा सकता है। शारीरिक दूरी और जरूरत हो तभी घर से बाहर मॉस्क लगाकर निकलना ही इसका एकमात्र विकल्प है। बताते चलें कि, 29 लाख की आबादी वाले जिले में कोरोना की चपेट में अब तक 308 लोग आ चुके हैं और 211 लोग इस बीमारी की चपेट में आने के बाद इलाज के बाद ठीक भी हो चुके हैं। अभी भी 96 मरीजों का इलाज चल रहा है। जनपद में कुल 10841 सैंपल लिए गए हैं और 9178 सैंपलों की जांच आ चुकी है। संख्या लगातार बढ़ रही है। जिला प्रशासन बढ़ती संख्या को लेकर चिंतित है लेकिन यहां के लोग न तो जिला प्रशासन की चिंता पर गंभीर दिख रहे है और ना ही बताए गए उपायों को ही अपनी जिंदगी के साथ जोड़ रहे है तभी एक के बाद एक मरीजों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है। जिलाधिकारी संजीव सिंह का कहना है कि कोरोना के मरीजों की बढ़ती संख्या को लेकर जिले में चार स्टैटिक जांच बूथ बनाये गये हैं। खागा और बिंदकी तहसील में एक-एक बूथ बनाए गए है। जबकि फतेहपुर शहर में दो स्टैटिक बूथ बनाए गए हैं। इन बूथों में ग़ैर जनपद से आने वाला व्यक्ति या फिर किसी भी व्यक्ति को कोरोना के लक्ष्ण है वह जांच करा सकता है सुबह 8:00 बजे से शाम 4:00 बजे तक बूथों में आने वाले लोगो के सैंपल लिए जाएंगे। अब जांच के लिए लोगों को इधर से उधर भटकना नहीं पड़ेगा। उन्होंने जनता से अपील करते हुए कहा कि सभी को अपनी जिम्मेदारी लेनी होगी और जिला प्रशासन का सहयोग करना होगा। महामारी की गंभीरता पर जनपद के लोगों को स्वविवेक व स्वप्रेरणा से शासन द्वारा जारी व जिला प्रशासन द्वारा बताई गई गाइडलाइंस का पालन करना होगा और लोगों से करवाना होगा तभी इस कोरोना के खिलाफ जंग को जीता जा सकेगा। हिन्दुस्थान समाचार/देवेन्द्र/मोहित-hindusthansamachar.in