शराब माफिया की गिरफ्तारी की मांग को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने दिया धरना

शराब माफिया की गिरफ्तारी की मांग को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने दिया धरना
congress-workers-staged-a-protest-demanding-the-arrest-of-the-liquor-mafia

-अलीगढ़ जानलेवा जहरीली शराब कांड को लेकर प्रदेश सरकार पर साधा निशाना वाराणसी, 09 जून (हि.स.)। अलीगढ़ जानलेवा जहरीली शराब कांड को लेकर बुधवार को कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने टाउनहाल मैदागिन स्थित महात्मा गांधी की मूर्ति के समक्ष धरना दिया। धरना में शामिल पूर्व मंत्री अजय राय ने कहा कि शराब माफियाओं को सत्ता का संरक्षण प्राप्त है, जहरीली शराब से हुई मौतों की एक के बाद एक घटनाएं माफिया और सरकार के गठजोड़ की भूमिका पर सवाल खड़े करती है। पूर्व मंत्री ने कहा कि जहरीली शराब बनाने वालों और बेचने वालों के सिंडिकेट को सरकार का पूरी तरह संरक्षण प्राप्त है। शराब माफिया के खिलाफ कभी ऐसी कार्रवाई नहीं होती जिससे उनके हौसले पस्त हों। उन्होंने कहा कि जहरीली शराब से मौतों की एक घटना के बाद दूसरी घटना होने में देर नहीं लगती। इसका सीधा मतलब है कि शराब माफियाओं को सत्ता का साथ मिला हुआ है। कानूनी कार्यवाही करने का सिर्फ नाटक किया जाता है। इक्का-दुक्का लोगों पर कानूनी कार्यवाही करके कोरम पूरा किया जाता है, इसके कारण ही जहरीली शराब के सौदागर बेखौफ होकर फिर से अपना काम करते हैं। ऐसा नहीं है तो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आबकारी विभाग के मंत्री से जवाब तलब क्यों नहीं करते। धरना में शामिल नेताओं ने शराब माफिया की गिरफ्तारी को लेकर प्रदेश सरकार पर जमकर हमला बोला। इसमें जिलाध्यक्ष राजेश्वर पटेल, महानगर अध्यक्ष राघवेंद्र चौबे,इमरान खान,नेता पार्षद दल सीताराम केशरी,दुर्गाप्रसाद गुप्ता,फसाहत हुसैन बाबू,ओमप्रकाश ओझा,दिलीप चौबे,मनीष मोरिलिया,अशोक सिंह,शैलेन्द्र सिंह,चंचल शर्मा,सफक रिजवी,पंकज सिंह डब्लू आदि शामिल रहे। हिन्दुस्थान समाचार/श्रीधर