चिंतन शिविर में कांग्रेस नेता कृषि, रोजगार पर विशेषज्ञों के साथ करेंगे चर्चा

चिंतन शिविर में कांग्रेस नेता कृषि, रोजगार पर विशेषज्ञों के साथ करेंगे चर्चा
congress-leaders-will-discuss-with-experts-on-agriculture-employment-in-chintan-camp

-बतायेंगे निजीकरण का कुप्रभाव, महंगाई और बेरोजगारी पर सुझाव भी देंगे वाराणसी, 06 मार्च (हि.स.)। पं. कमलापति त्रिपाठी फाउंडेशन की ओर से तीन दिवसीय चिंतन शिविर का आयोजन रविवार से इंगलिशिया लाइन स्थित फाउंडेशन कार्यालय परिसर में किया गया है। चिंतन शिविर में कांग्रेस के नेताओें के साथ शिक्षाविद, विधिवेत्ता, छात्र संगठन के पदाधिकारी, सामाजिक और राजनीतिक क्षेत्र के विशेषज्ञ भी भाग लेंगे। ये जानकारी शनिवार को फाउंडेशन कार्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता में पार्टी के वरिष्ठ नेता विजय शंकर पांडेय,प्रो.अनिल कुमार उपाध्याय,वैजनाथ सिंह,शैलेन्द्र सिंह,आनंद मिश्रा ने संयुक्त रूप से दी। पार्टी के नेताओं ने बताया कि चिंतन शिविर में कृषि, शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार, महंगाई, सामाजिक सुरक्षा, अभिव्यक्ति की आजादी, विकास के नाम पर विस्थापन, निजीकरण का कुप्रभाव, साम्प्रदायिक ताकतों के समक्ष धर्म निरपेक्ष ताकतों की स्थिति आदि पर चर्चा होगी। मंहगाई और बेरोजगारी आदि विषयों पर चिंतन के साथ सुझाव भी प्रस्तुत किया जायेगा। विजय शंकर पांडेय ने बताया कि चिंतन शिविर का उद्घाटन शिक्षाविद और संकटमोचन के महंत प्रो.विश्वम्भर नाथ मिश्र करेंगे। शिविर तीनों दिन दो सत्रों में अपरान्ह 02 बजे से शाम 06 बजे तक चलेगा। उन्होंने बताया कि शिविर मे प्रो. केशव मिश्र, प्रो.पी भारद्याज, प्रो.एन.के. मिश्र, पो. आनंद मिश्र, प्रो. सतीश राय, प्रो. महेश विक्रम सिंह, प्रो. रामपूजन पांडेय आदि भाग लेंगे। शिविर में बुनकर नेता सरदार मकबूल हसन, हाजी अब्दुल हमीद, मदरसा इंतजामिया के पदाधिकारी, रेल, बिजली और श्रमिक संगठनों के पदाधिकारियों ने भी आने की सहमति दे दी है। हिन्दुस्थान समाचार/श्रीधर/दीपक