सीएमओ ने कृषि विश्वविद्यालय के एनएसएस वालंटियर्सों को दिए कोरोना जागरुकता के टिप्स

सीएमओ ने कृषि विश्वविद्यालय के एनएसएस वालंटियर्सों को दिए कोरोना जागरुकता के टिप्स
cmo-gave-corona-awareness-tips-to-nss-volunteers-of-agricultural-university

— सभी लोग मास्क और शारीरिक दूरी बनाये जाने का लें संकल्प कानपुर, 12 अप्रैल (हि.स.)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आवाहन पर पूरे देश में कोरोना जागरुकता अभियान चलाया जा रहा है और खासकर शिक्षित वर्ग बढ़—चढ़कर भाग ले रहा है। इसी क्रम में कृषि विश्वविद्यालय का स्टॉफ भी लोगों के बीच जागरुकता ला रहा है। यहां के एनएसएस वालंटियर्स ग्रामीण क्षेत्रों में अहम भूमिका निभा रहे हैं। ऐसे ही जागरुकता अभियान चलता रहा तो जल्द ही कोरोना संक्रमण पर काबू पाया जा सकेगा। यह बातें सोमवार को सीएमओ डा. अनिल मिश्र ने सीएसए में वालंटियर्सों को जागरुकता टिप्स दिये जाने के दौरान कही। चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय (सीएसए) के कुलपति डा. डीआर सिंह के मार्गदर्शन में कोविड-19 के वैक्सीनेशन (टीकाकरण) जागरुकता कार्यक्रम चलाया जा रहा है। सोमवार को मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. अनिल कुमार मिश्रा एवं उनकी धर्मपत्नी प्रोफेसर शीला मिश्रा ने विश्वविद्यालय के एनएसएस के वालंटियर्स को आम जनमानस में कोरोना वायरस के लिए जागरुकता के टिप्स दिए। इस अवसर पर डा. मिश्रा ने बताया कि कोरोना को समाप्त करने के लिए यह जरुरी है कि हर व्यक्ति यह संकल्प ले कि वह अनिवार्य रुप से मास्क का उपयोग करेगा तथा शारीरिक दूरी का पालन करेगा। इसी के माध्यम से संक्रमण की चेन टूटेगी। उन्होंने कहा कि कोरोनावायरस को पूर्ण रुप से समाप्त करने के लिए कोविड-19 वैक्सीनेशन (टीकाकरण) जन जागरुकता कार्यक्रम देश के ओजस्वी प्रधानमंत्री के आवाहन पर पूरे देश में चलाया जा रहा है। जो 11 अप्रैल से 14 अप्रैल तक चलेगा। इस अभियान में शिक्षक वैज्ञानिक एवं छात्र छात्राएं बढ़ चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं। उन्होंने कहा इस अभियान के दौरान हमें एक दूसरे के पूरे सहयोग से दृढ़ संकल्पित होकर संक्रमण को पूरी तरह समाप्त करना है। इस दौरान मीडिया प्रभारी डा. खलील खान, अधिष्ठाता कृषि संकाय डा. धर्मराज सिंह, अधिष्ठाता गृह विज्ञान डा. वेदरतन, डा. संजीव कुमार, डा. अर्चना सिंह, डा. रश्मि सिंह आदि मौजूद रहें। 14 को होगी कोरोना टीकाकरण मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा कि 14 अप्रैल को सीएसए के मानव चिकित्सालय पर 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के अधिकारियो, वैज्ञानिकों एवं कर्मचारियों का टीकाकरण होगा। इस अवसर पर प्रोफेसर शीला मिश्रा ने एनएसएस व एनसीसी के वॉलिंटियर्स/ कैडेट्स को संबोधित करते हुए कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों व घनी बस्तियों में आप लोग 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के महिला पुरुषों को जागरुक करें व टीकाकरण केंद्र पर जाने हेतु प्रेरित करें। हिन्दुस्थान समाचार/अजय/मोहित