cleanliness-is-essential-to-prevent-communicable-diseases-mayor
cleanliness-is-essential-to-prevent-communicable-diseases-mayor
उत्तर-प्रदेश

संचारी रोगों से बचाव के लिए जरुरी है स्वच्छता : महापौर

news

- महानगर में 10 मार्च से चलाया जाएगा दस्तक अभियान कानपुर, 01 मार्च (हि.स.)। संचारी रोगों से बचाव के लिए स्वच्छता का विशेष ध्यान रखना जरुरी है। नगर एवं ग्रामीण क्षेत्रों में साफ-सफाई, नाली की सफाई आदि का कार्य नगर निगम एवं पंचायत राज विभाग के सहयोग से कराया जा रहा है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी चाहते हैं कि संचारी रोगों पर प्रभावी नियंत्रण रखा जाये और इसके बचाव के प्रति लोगों को जागरुक करने के साथ आवश्यक व्यवस्था भी रखी जाये। यह बातें सोमवार को संचारी रोग नियंत्रण अभियान के शुभारंभ के दौरान महापौर प्रमिला पाण्डेय ने कही। नगर निगम में महापौर प्रमिला पाण्डेय ने दीप प्रज्जवलित कर संचारी रोग नियंत्रण अभियान शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि जनपद में संचारी रोग नियंत्रण अभियान एक मार्च से 31 मार्च चलाया जाएगा। इसके साथ ही दस्तक अभियान दिनांक 10 मार्च से 24 मार्च तक जनपद में चलाया जायेगा। उन्होंने कहा कि संचारी रोगों के अन्तर्गत डेंगू, मलेरिया, चिकिनगुनिया, बुखार आदि बीमारियों के प्रति लोगों को इसके लक्षणों के संबंध में जागरुक करना आवश्यक है। महापौर ने उपस्थित लोगों को संचारी रोग नियंत्रण एवं दस्तक अभियान के लिए शपथ दिलाई, जिसके अन्तर्गत उन्होंने अपने गांव, ब्लाक, जनपद और देश को रोग मुक्त कराने के लिये प्रतिबद्धता, व्यक्तिगत साफ-सफाई का ध्यान रखने, गांव एवं मोहल्ले के वातावरण को स्वच्छ रखने तथा समुदाय को स्वच्छता अपनाने के लिये प्रेरित करने के साथ गांव व क्षेत्र में यदि कोई व्यक्ति बुखार से पीड़ित होगा तो उसको इलाज के लिये अस्पताल जाने के लिए प्रेरित करने की शपथ दिलाई। उन्होंने नगर निगम के द्वारा फाॅगिंग एवं अन्य सफाई कार्यो के लिए छोटी एवं बड़ी गाड़ियों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। इस अवसर पर अपर निदेशक स्वास्थ्य डा. गिरीश कुमार मिश्रा, डा0 ए0पी0 मिश्रा, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी, नगर स्वास्थ्य अधिकारी डा0 अजय शंखवार, डा0 शीला मिश्रा, डा0 ए0के0 सिंह एवं संचारी रोग के नोडल अधिकारी उपस्थित रहें। क्षय रोग की जानकारी जुटाएंगी आंगनवाड़ी कार्यकत्री मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. अनिल मिश्रा ने कहा कि आशा एवं आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों द्वारा प्रत्येक मकान पर क्षय रोग के संभावित रोगियों के विषय में भी जानकारी प्राप्त करेंगी। क्षय रोग के लक्षणों वाले किसी व्यक्ति की सूचना प्राप्त होने पर इस व्यक्ति का नाम पता एवं मोबाइल नंबर सहित सम्पूर्ण विवरण एक लाइन लिस्टिंग फॉर्मेट में अंकित कर क्षेत्रीय ए0एन0एम0 के माध्यम से ब्लॉक मुख्यालय पर उपलब्ध करायेंगी। घर-घर भ्रमण के दौरान आशा कार्यकत्रियों के द्वारा जन्म तथा मृत्यु पंजीकरण से छूट गए शिशुओं/व्यक्तियों का पंजीकरण की कार्यवाही भी की जाएगी। किसी परिवार में दिमागी बुखार के कारण विकलांग हुए किसी व्यक्ति की सूचना भी फ्रंट लाइन वर्कर्स के द्वारा निर्धारित प्रपत्र पर एकत्रित की जाएगी। लार्वारोधी गतिविधियां तथा फॉगिंग की गतिविधियों में सहयोग करेंगी। हिन्दुस्थान समाचार/महमूद/मोहित