चित्रकूट शराबकांड : आरोपितों पर रासुका लगाने में जुटा प्रशासन

चित्रकूट शराबकांड : आरोपितों पर रासुका लगाने में जुटा प्रशासन
chitrakoot-liquor-incident-administration-engaged-in-imposing-rapes-on-the-accused

चित्रकूट, 24 मार्च (हि.स.)। राजापुर थाना के खोपा गांव में जहरीली शराब से सात लोगों की मौत के मामले में प्रशासन ने संज्ञान में लिया है। अभियुक्तों के खिलाफ गैंगेस्टर एक्ट व एनएसए के अलावा सम्पत्ति कुर्क की तैयारी शुरु कर दी गई है। जनपद में शराब पीने से हुई सात लोगों की मौत के मामले के बाद शराब के अवैध कारोबारियों के खिलाफ कार्रवाई लगातार की जा रही है। इसी कड़ी में बुधवार को एसडीएम सदर व सीओ सिटी, कोतवाल और आबकारी टीम ने संयुक्त अभियान में विभिन्न स्थानों पर छापेमारी की है। अभियान के तहत 26 लोगों के कब्जे से 328 लीटर महुआ शराब, 27 लीटर केमिकल, 12 भट्ठियां बरामद कर 37 कुंतल 22 किलो लहन मौके पर नष्ट किया। अभी तक 16 मामले आबकारी अधिनियम के तहत दर्ज हुए। सीतापुर पुलिस चौकी क्षेत्र के मलकाना व मध्य प्रदेश सीमा किनारे पांच कुंतल लहन नष्ट किया। विभिन्न थानों में एसडीएम व सीओ ने शराब की 176 दुकानों के अनुज्ञापियों व सेल्समैनों के साथ गोष्ठी कर किसी भी दशा में अवैध शराब की बिक्री न होने की चेतावनी दी। अधिकारीगणों ने जनचौपाल में पुराने मामलों की जानकारी लेकर पुराने अपराधियों का सत्यापन किया। दस साल में अवैध शराब के कार्यों में लिप्त 95 लोगों की जांचकर देखा कि कोई अवैध कार्य तो नहीं कर रहे। जनता से अपील किया कि कोई अवैध कार्यों में लिप्त मिले तो उसके खिलाफ गम्भीर धाराओं में कार्रवाई की जायेगी। हिन्दुस्थान समाचार/रतन

अन्य खबरें

No stories found.