chief-minister-seeks-cooperation-from-all-parties-for-smooth-running-of-budget-session-of-legislature
chief-minister-seeks-cooperation-from-all-parties-for-smooth-running-of-budget-session-of-legislature
उत्तर-प्रदेश

विधान मंडल के बजट सत्र को सुचारु रुप से चलाने को मुख्यमंत्री ने सभी दलों से मांगा सहयोग

news

-सत्र से पहले मुख्यमंत्री योगी की मौजूदगी में संपन्न हुई सर्वदलीय बैठक लखनऊ, 17 फरवरी (हि.स.)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश विधान मंडल के बजट सत्र को सुचारु रुप से चलाने के लिए सभी दलों से सहयोग मांगा है। विधान मंडल का बजट सत्र गुरुवार से शुरु हो रहा है। प्रथम दिन राज्यपाल आनंदीबेन पटेल पूर्वाह्न 11 बजे दोनों सदनों की संयुक्त बैठक को संबोधित करेंगी। विधान मंडल के बजट सत्र को व्यवस्थित तरीके से चलाने के लिए मुख्यमंत्री योगी आादित्यनाथ की मौजूदगी में आज सर्वदलीय बैठक हुई। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी ने सभी दलों के नेताओं से सत्र के सुचारु संचालन के लिए सहयोग मांगा। हालांकि बैठक के दौरान विपक्ष ने भी पूरा सहयोग देने का आश्वासन दिया लेकिन इस बात पर नाराजगी भी जताई सत्र को बहुत ही कम अवधि के लिए चलाया जा रहा है। नेता प्रतिपक्ष रामगोविन्द चौधरी, बसपा विधानमंडल दल के नेता लालजी वर्मा और कांग्रेस दल की नेता आराधना मिश्रा मोना बजट और जनता के ज्वलंत मुद्दों पर सत्र के दौरान विस्तृत चर्चा कराने की मांग की। सर्वदलीय बैठक के बाद विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित की अध्यक्षता में कार्यमंत्रणा समिति की भी बैठक हुई, जिसमें विधानसभा सत्र संचालन कार्यक्रम को अंतिम रूप दिया गया। राज्यपाल के अभिभाषण से शुरू होने वाले विधान मंडल के बजट सत्र में 22 फरवरी को योगी सरकार वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए बजट प्रस्तुत करेगी। सत्र को दस मार्च तक चलाए जाने का कार्यक्रम जारी हुआ है। कोरोना संक्रमण के चलते सत्र के दौरान विशेष सावधानी बरती जाएगी। विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने कोविड जांच व बचाव उपाय के पालन पर अधिक जोर दिया है। विधायकों के अलावा विधानसभा के सभी कर्मियों और सुरक्षा व्यवस्था में लगे हुए लोगों की कोरोना जांच करा दी गई है। पिछले सत्र की तरह इस बार भी पत्रकारों के लिए तिलक हाल में बैठने की व्यवस्था की गई है। मंगलवार को राजधानी लखनऊ में एसटीएफ द्वारा पीएफआई के दो कमांडरों को गिरफ्तार किया गया। इसके मद्देनजर सत्र के दौरान विधान भवन की सुरक्षा और बढ़ा दी गई है। यहां एटीएस कमांडो भी तैनात किए जाएंगे। हिन्दुस्थान समाचार/ पीएन द्विवेदी-hindusthansamachar.in

AD
AD