उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ की ओर से मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन विधायक को सौंपा
उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ की ओर से मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन विधायक को सौंपा
उत्तर-प्रदेश

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ की ओर से मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन विधायक को सौंपा

news

नजीबाबाद (बिजनौर), 23 जुलाई (हि.स.)। निजी संस्थाओं, वित्तविहीन माध्यमिक मदरसा तथा स्ववित्तपोषित व महाविद्यालयों बेसिक संस्कृत तथा अन्य प्रकार शिक्षण संस्थाओं में कार्य कर रहे शिक्षकों कर्मचारियों की ओर मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन विधायक को सौंपा। गुरुवार को उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ की ओर से मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन विधायक हाजी तसलीम अहमद को सौंपा गया। शिक्षकों के परिवार लॉकडाउन के दौरान राजकीय सहायता न मिल पाने के कारण गंभीर आर्थिक संकट से गुजर रहा है। प्रदेश की माध्यमिक शिक्षा के लगभग अस्सी प्रतिशत विद्यालय गैर अनुदानित असरकारी वित्तविहीन एवं स्ववित्तपोषित विद्यालय के रूप में निजी प्रबंध द्वारा संचालित है। इन विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों एवं कर्मचारियों को छात्रों से प्राप्त शुल्क से अत्यंत न्यून पारिश्रमिक संदाय होता है। विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों कर्मचारियों को मार्च महीने से कोई भुगतान नहीं हो रहा है। विद्यालय बंद हैं जिससे शिक्षण शुल्क जमा नहीं हो पा रहा है। नया प्रवेश भी नहीं हो पा रहा है। आय अभाव में शासन के आदेश के बाद भी प्रबंधन भुगतान नहीं कर पा रहा है। पिछले 3 महीनों से पारिश्रमिक ना मिलने के कारण इनका परिवार भुखमरी की कगार पर खड़ा है। वित्तविहीन विद्यालयों के शिक्षकों को न्यूनतम 5000 रुपये प्रतिमाह की आर्थिक सहायता प्रदान करने की कृपा करें। हिन्दुस्थान समाचार/रिहान अन्सारी-hindusthansamachar.in