डीडीसी चुनाव में 6 सीटें हासिल कर बसपा ने बनाया दबदबा ,भाजपा और सपा को चार-चार सीटें

डीडीसी चुनाव में 6 सीटें हासिल कर बसपा ने बनाया दबदबा ,भाजपा और सपा को चार-चार सीटें
bsp-dominates-by-winning-6-seats-in-ddc-election-bjp-and-sp-four-seats-each

-चुनाव में मिली सफलता से बसपाइयोें में उत्साह चित्रकूट,04 मई (हि.स.)। यूपी विधानसभा चुनाव से पूर्व सम्पन्न त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में सत्तारूढ़ दल भाजपा को करारा झटका लगा है। जिला पंचायत सदस्य पद की 17 सीटो में बसपा को जहां 06 सीटें हासिल हुई हैं, वहीं भाजपा और सपा को महज चार-चार सीटों से ही संतुष्ट होना पडा है। डीडीसी की तीन सीटों पर निर्दलीय प्रत्याशियों ने जीत का परचम लहराया है। चुनाव में अप्रत्याशित रूप से बसपा को सर्वाधिक सीटे मिलने से भाजपा-सपा में बेचैनी बढ गई है। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को यूपी विधानसभा चुनाव 2022 के सेमीफाइनल के रूप में देखा जा रहा है। जिला पंचायत सदस्य पद के हुए चुनाव में भाजपा को खासा निराशा हाथ लगी है। जिले के वार्ड नंबर-एक बरगढ़ से बसपा के अनिल कोल,वार्ड नंबर दो मंडौर से निर्दलीय विनीत द्विवेदी,वार्ड नंबर तीन खंडेहा से बसपा के राजाराम पाल,वार्ड नंबर चार हन्ना-बिनैका से भाजपा के अर्जुन शुक्ला, वार्ड नंबर पांच इटवां से बसपा के उमाकांत त्रिपाठी,वार्ड नंबर छः भदेदू से भाजपा की प्रेमा सिंह की जीत हुई है। वार्ड नंबर सात सरधुवा से निर्दलीय राजरानी यादव,वार्ड नंबर आठ ओरा से निर्दलीय प्रेमचंद वर्मा, वार्ड नंबर-9 पहाड़ी से भाजपा के अशोक जाटव, वार्ड नंबर-10 परसौंजा से भाजपा के दशरथ प्रजापति,वार्ड नंबर-11 भैसौंधा से सपा की विमला देवी और वार्ड नंबर-12 अकबरपुर से सपा की अनुराधा देवी को विजयश्री मिली है। इसी तरह वार्ड नंबर-13 रसिन से बसपा के जगदीश यादव,वार्ड नम्बर-14 रैपुरा से निर्दलीय संगीत देवी,वार्ड नंबर-15 भौंरी से सपा की अनीता सिंह बघेल,वार्ड नंबर-16 सरैंया से बसपा की मीरा भारती तथा वार्ड नंबर- 17 चुरेह केशरुवा से बसपा के शिव औतार त्रिपाठी ने निकटतम प्रत्याशियों को हराकर जीत हासिल की। जिला पंचायत सदस्य पद के चुनाव में सर्वाधित 06 सीटें मिलने से बसपाइयों में खुशी की लहर है। सत्तारूढ दल भाजपा के बराबर चार सीटें मिलने से सपा भी उत्साहित नजर आ रही है।बसपा के पूर्व विधायक चंद्रभान सिंह ने डीडीसी चुनाव में सबसे अधिक सीटे मिलने पर पार्टी कार्यकर्ताओं को बधाई दी है। पूर्व विधायक का कहना है कि पंचायत चुनाव आगामी विधानसभा चुनाव का सेमीफाइनल है। बसपा का जिला पंचायत अध्यक्ष बनाने का भरसक प्रयास किया जायेगा।इसके अलावा आगामी विधानसभा चुनाव में भी बसपा सत्तारूढ दल भाजपा को कडी चुनौती देगी। वहीं अनुमान से कम सीटें मिलने से भाजपा में समीक्षा शुरू हो गई है।जिलाध्यक्ष चंद्र प्रकाश खरे का कहना है कि पंचायत चुनाव में भाजपा का प्रदर्शन शानदार रहा है। इसके अलावा डीडीसी चुनाव में पार्टी के साथ भितरघात करने वालों को किसी कीमत पर बख्शा नही जायेगा। हिन्दुस्थान समाचार /रतन / प्रभात ओझा