bhu-to-investigate-allegations-of-false-plasma-transfusion-to-patient-committee-constituted
bhu-to-investigate-allegations-of-false-plasma-transfusion-to-patient-committee-constituted
उत्तर-प्रदेश

बीएचयू में मरीज को गलत तरीके से प्लाज्मा चढ़ाने के आरोप की होगी जांच, समिति गठित

news

वाराणसी, 03 अप्रैल (हि.स.)। काशी हिन्दू विश्वविद्यालय (बीएचयू) के सर सुंदर लाल अस्पताल में एक मरीज को गलत तरीके से प्लाज्मा चढ़ाने के आरोप का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। इस मामले को लेकर अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ एसके माथुर भी संजीदा है। शनिवार को उन्होंने पूरे मामले की जांच के लिए जांच समिति का गठन किया। समिति 72 घंटे के भीतर अपनी रिपोर्ट सौंपेंगी। चिकित्सा अधीक्षक के अनुसार अस्पताल के आईसीयू में बेड संख्या 4 पर भर्ती रमेश सिंह के उपचार के संदर्भ में आज उनके कार्यालय को एक शिकायत प्राप्त हुई थी, जिसमें कहा गया है कि मरीज़ को प्लाज्मा दिया गया। जबकि मरीज़ के परिजनों को ऐसी किसी आवश्यकता से अवगत नहीं कराया गया। इस मामले की जांच के लिए समिति गठित की गई है। बताते चले फूलपुर क्षेत्र के बाबतपुर मंगारी गांव निवासी रमेश सिंह(65) का 14 मार्च को हार्निया का ऑपरेशन हुआ था । 25 मार्च को गैस्ट्रो की समस्या को लेकर उन्हें अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कर दिया गया। उनके पुत्र आलोक सिंह ने आरोप लगाया कि शुक्रवार को डॉक्टरों ने बिना हमारी जानकारी के गलत प्लाज्मा चढ़ा दिया। पिता का 'ओ' पॉजिटिव ब्लड ग्रुप है, लेकिन उन्हें 'ए' ब्लड ग्रुप का प्लाज्मा चढ़ा दिया गया। जब हालत बिगड़ने लगी तो उन्हें वेंटिलेटर पर शिफ्ट कर दिया। आलोक ने कहा कि प्लाज्मा की कोई जरूरत थी तो डॉक्टर हमसे कहते। आलोक ने अस्पताल के एमएस को शिकायती पत्र लिखने के बाद पिंडरा विधायक अवधेश सिंह को भी इसकी जानकारी दी। जानकारी पर विधायक और लंका थाना प्रभारी भी मरीज और उनके परिजनों से मिले और पूरे मामले की जानकारी ली। हिन्दुस्थान समाचार/श्रीधर