बलिया : सीआरपीएफ जवान का शव पहुंचते ही नम हुई सबकी आंखें, पुत्र ने दी मुखाग्नि

बलिया : सीआरपीएफ जवान का शव पहुंचते ही नम हुई सबकी आंखें, पुत्र ने दी मुखाग्नि
ballia-everyone39s-eyes-moistened-as-soon-as-crpf-jawan39s-body-arrived-son-offered-fire

बलिया, 29 अप्रैल (हि.स.)। दिल्ली एम्स में ब्रेन हेमरेज से हुई मौत के बाद सीआरपीएफ जवान का शव गुरुवार को पैतृक गांव डांगर पहुंचा। गंगा घाट पर साथ आए सीआरपीएफ जवानों ने अंतिम सलामी दी। हल्दी थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत बेलहरी के डांगर बाद निवासी सीआरपीएफ में सब इंस्पेक्टर अजय तिवारी (55) 182 बटालियन श्रीनगर में तैनात थे। पिछले साल 20 नवम्बर को पुलवामा में हुए आतंकी हमले में घायल हो गए थे। ब्रेन हेमरेज हो जाने के चलते उनका इलाज दिल्ली में चल रहा था। मंगलवार को उनका निधन हो गया। जवान का पार्थिव शरीर लेकर 95 बटालियन वाराणसी के असिस्टेंट कमांडेंट ज्ञानरंजन राय व एसआई बीके शर्मा के साथ 14 सदस्य टीम गुरुवार को डांगर पहुंची। इसके बाद उनके पार्थिव शरीर को गंगापुर गंगा घाट पर अंतिम संस्कार के लिए लाया गया। जवानों ने सलामी देने के बाद उनके पार्थिव शरीर को उनके बड़े पुत्र मोहित तिवारी ने मुखाग्नि दी। हिन्दुस्थान समाचार/पंकज