तालाबों को मिले बल, तो जल समस्या का होगा हल-अरिमदन सिंह
तालाबों को मिले बल, तो जल समस्या का होगा हल-अरिमदन सिंह
उत्तर-प्रदेश

तालाबों को मिले बल, तो जल समस्या का होगा हल-अरिमदन सिंह

news

-मृत्यु शैया पर पड़े आगरा जनपद के 2825 तालाब -पूर्व कैबिनेट मंत्री ने सिंचाई एवं जल संसाधन मंत्री को लिखा पत्र - तालाबों कराय जाए जीर्णोद्धार, प्रतिनिधि दे श्रमदान -आयुक्त, डीएम और सीडीओ को भेजी प्रतिलिपि आगरा, 23 जुलाई (हि.स.)। आगरा के लाखों लोग पानी की समस्या से जूझ रहे हैं। हजारों किसानों के खेतों को पानी नहीं मिल पा रहा है। आने वाले समय में पानी की यह समस्या और भी विकराल ना हो, इसे दृष्टिगत रखते हुए वरिष्ठ भाजपा नेता एवं उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्व कैबिनेट मंत्री राजा महेंद्र अरिदमन सिंह ने उत्तर प्रदेश सरकार के सिंचाई एवं जल संसाधन मंत्री को पत्र लिखकर आगरा के विभिन्न तहसीलों में स्थित 2825 तालाबों के जीर्णोद्धार की अपील की है। राजा महेंद्र अरिदमन सिंह ने पत्र में लिखा है कि दिन-प्रतिदिन अधिक दोहन के कारण भूजल स्तर गिरता चला जा रहा है। अत: आवश्यक है कि तहसील बाह के 813, तहसील फतेहाबाद के 647, तहसील सदर के 197, तहसील खेरागढ़ के 677 और तहसील एत्मादपुर के 491 सहित आगरा जनपद के कुल 2825 तालाबों का जीर्णोद्धार सरकारी नीति के अनुसार मनरेगा व अन्य सरकारी योजनाओं के तहत स्वीकृत धनराशि एवं विधायक और सांसद निधि से कराया जाए। उन्होंने लिखा है कि इस कार्य हेतु गांव के निवासी, ग्राम प्रधान, ब्लाक प्रमुख आदि को श्रमदान कराने हेतु प्रेरित किया जाए। जनप्रतिनिधियों का भी सहयोग लिया जाए। इससे बरसात में जल संचय हो सकेगा। तालाबों को मूर्त रूप मिलेगा तो लोगों को जीविकोपार्जन का साधन भी मिलेगा। किसानों को खेती के लिएं जल और जनमानस को पीने के लिए पानी उपलब्ध हो सकेगा। उन्होंने पत्र में बाह की विधायक रानी पक्षालिका सिंह द्वारा भेजी गई सूची के अनुसार तहसील बाह के तीन ब्लॉकों में 20-20 तालाबों के अधूरे पड़े जीर्णोद्धार एवं अन्य जनोपयोगी कार्यों की ओर भी ध्यानाकर्षण करते हुए इन्हें भी अविलंब पूर्ण किए जाने की अपील की है। हिन्दुस्थान समाचार/संजीव/दीपक-hindusthansamachar.in