ajit-singh-massacre-former-mp-underground-on-arrest-warrant-issued
ajit-singh-massacre-former-mp-underground-on-arrest-warrant-issued
उत्तर-प्रदेश

अजीत सिंह हत्याकांड : गिरफ्तारी वारंट जारी होने पर पूर्व सांसद अंडरग्राउंड

news

लखनऊ, 21 फरवरी (हि.स.)। मऊ के पूर्व ब्लॉक प्रमुख अजीत सिंह हत्याकांड में पूर्व सांसद धनंजय सिंह के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी हुआ है। इसकी भनक लगने के बाद पूर्व सांसद अंडरग्राउंड हो गया, जिसकी तलाश में लखनऊ पुलिस दबिश दे रही है। लखनऊ की सीजेएम कोर्ट ने पूर्व सांसद धनंजय सिंह की गिरफ्तारी का वारंट जारी किया था। कोर्ट में पेश हुए साक्ष्य और डॉक्टर के बयान के आधार पर राजधानी में 06 जनवरी को गैंगवार में हुई पूर्व ब्लॉक प्रमुख अजीत सिंह की हत्या में पूर्व सांसद बाहुबली धनंजय सिंह आरोपित पाए गए हैं। इसके बाद पुलिस सांसद की गिरफ्तारी का प्रयास शुरु कर दिया है। पुलिस आयुक्त डीके ठाकुर ने बताया कि क्राइम ब्रांच और विभूतिखंड थाने की पुलिस को जौनपुर रवाना किया है। दावा किया है कि बहुत जल्द लखनऊ पुलिस पूर्व सांसद धनंजय सिंह को गिरफ्तार कर लेगी। शनिवार और रविवार को पुलिस ने जौनपुर में संभावित ठिकानों पर दबिश दी थी, लेकिन उनके हाथ कोई सफलता नहीं मिली। इनकी हो चुकी गिरफ्तारी पूर्व ब्लॉक प्रमुख की हत्या के मामले में पुलिस ने एक शूटर संदीप सिंह उर्फ बाबा को बीती 20 जनवरी को गिरफ्तार किया था। इससे पहले साक्ष्य छिपाने के आरोप में प्रिंस और रेहान को जेल भेजे जा चुके है। वहीं, गिरधारी को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था, जो मुठभेड़ में मारा जा चुका है। आरोपित बंधन ने पुराने मामले में आजमगढ़ स्थित कोर्ट में सरेंडर कर दिया था। इनके अलावा नामजद आरोपित कुंटू और अखंड पहले से जेल में बंदी हैं। पुलिस को है इनकी तलाश वारदात में शामिल रवि यादव, शिवेंद्र सिंह उर्फ अंकुर, राजेश तोमर व बंटी उर्फ मुस्तफा अभी भी पुलिस की चुंगल से दूर है। इनके अलावा मददगार विपुल सिंह का भी कोई सुराग नहीं लग सका है। इनके अलावा कुछ अन्य लोग भी पुलिस के निशाने पर हैं। हिन्दुस्थान समाचार/दीपक