agents-will-be-included-in-the-counting-of-votes-only-after-bringing-the-certificate-of-kovid-negative
agents-will-be-included-in-the-counting-of-votes-only-after-bringing-the-certificate-of-kovid-negative
उत्तर-प्रदेश

कोविड निगेटिव का सर्टिफिकेट लेकर आने पर ही मतगणना में शामिल होंगे एजेंट

news

प्रतापगढ़, 26 अप्रैल (हि. स.)। प्रतापगढ़ क्षेत्रीय ग्राम्य विकास संस्थान अफीम कोठी सभागार में दो मई को पंचायत चुनाव की मतगणना को निष्पक्ष रूप से सम्पन्न कराये जाने को लेकर सोमवार को निर्वाचन अधिकारी, सहायक निर्वाचन अधिकारी, खण्ड विकास अधिकारी एवं समस्त उपजिलाधिकारियों का दो दिवसीय प्रशिक्षण प्रारम्भ हुआ। प्रशिक्षण में सुपर मास्टर ट्रेनर डा0 मोहम्मद अनीस ने प्रशिक्षण में निर्वाचन अधिकारी, सहायक निर्वाचन अधिकारी, खण्ड विकास अधिकारी एवं समस्त एसडीएम के कर्तव्य-अधिकार एवं अन्य महत्वपूर्ण विषयों पर राज्य निर्वाचन आयोग उत्तर प्रदेश द्वारा दिये गये निर्देशों के बारे में बताया गया। उन्होने बताया कि सभी विकास खण्डों में एक सुपर जोनल मजिस्ट्रेट की नियुक्ति की जा रही है उनके निर्देशन में सफलता पूर्वक मतगणना सम्पन्न होगी। दो मई को मतगणना प्रातः 8 बजे से प्रारम्भ होगी, मतगणना के लिये एक टेबल पर एक मतगणना पर्यवेक्षक एवं चार मतगणना सहायक की टीम होगी। मतपत्रों को अलग करने के बाद 50-50 की गड्डी में बांधा जायेगा। मतपत्रों को खारिज करने और स्वीकार करने के बारे में विस्तार पूर्वक बताया गया। मुख्य विकास अधिकारी अश्विनी कुमार पाण्डेय ने बताया कि सभी आरओ और एआरओ राज्य निर्वाचन आयोग के सभी महत्वपूर्ण निर्देशों को जान लें और उसी के अनुसार कार्य करें शंका हो तो उसका समाधान अवश्य कर लें, कोई भी निर्णय देने से पहले उसमें निष्पक्षता पूरी तरह से शामिल हो, किसी भी तरह के विवाद से बचें और निर्भीक होकर सकुशल मतगणना सम्पन्न कराये, पूर जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन साथ है। मुख्य राजस्व अधिकारी इन्द्र भूषण वर्मा ने बताया कि मतगणना स्थल पर कोई भी मतगणना कार्मिक उम्मीदवार या उसका एजेन्ट मोबाइल फोन लेकर नहीं जायेगा। उम्मीदवार और उसका एजेण्ट कोविड निगेटिव का सर्टिफिकेट लेकर आयेगें तभी उन्हें प्रवेश दिया जायेगा। मतगणना कार्मिकों को चाय, नाश्ता और पानी की व्यवस्था उनके सम्बन्धित टेबल पर की जायेगी। शील्ड मतपेटी को एजेण्टों को दिखाकर संतुष्ट करने के बाद ही खोली जायेगी। प्राचार्य अफीम कोठी शिव प्रकाश ने विस्तार पूर्वक पीपीटी के माध्यम से प्रशिक्षण दिया और प्रत्येक बिन्दु को विस्तारपूर्वक बताया, साथ ही प्रत्येक महत्वपूर्ण प्रपत्र के बारे में बताया। हिन्दुस्थान समाचार/दीपेन्द्र