औरैया : एडीएम ने नाग पंचमी पर नाग-नागिन के जोड़े को कराया सपेरों से मुक्त

औरैया : एडीएम ने नाग पंचमी पर नाग-नागिन के जोड़े को कराया सपेरों से मुक्त
औरैया : एडीएम ने नाग पंचमी पर नाग-नागिन के जोड़े को कराया सपेरों से मुक्त

- एडीएम एवं अन्य लोगों ने जोगियों को दी सहायता राशि औरैया, 25 जुलाई (हि. स.)। नाग पंचमी का त्यौहार जनपद में परंपरागत तरीके से मनाया गया। गृहणियों ने अपने- अपने घर के दरवाजे पर घी व कोयले से नाग देवताओं की आकृतियां बनाई। इसके साथ ही उन्हें पकवान एवं शिवइयां भी खिलाई। नाग पंचमी के अवसर पर अपर जिला अधिकारी ने नाग नागिन के दो जोड़ों को जोगियों से मुक्त करा दिया। साथ ही जोगियों को सहयोग राशि भी प्रदान की है। उन्होंने कहा कि वह धार्मिक कार्यो का समर्थन करते हुए पक्षधर रहती है। नाग पंचमी का त्यौहार जनपद में परंपरागत तरीके से मनाया गया जनपद के विभिन्न कस्बों एवं ग्रामीण अंचलों में नाग दर्शन के लिए लोग आतुर रहे। नागों को लेकर आये जोगियों को दान दक्षिणा भी दी गई। गृहणियों ने अपने-अपने दरवाजों पर आकृति स्वरूप बनाये गये नाग देवताओं को पकवान के साथ दूध पिलाया तथा शिवइयां भी खिलाई। इस मौके पर अपर जिला अधिकारी रेखा एस चौहान ने ककोर मुख्यालय पर दो जोगियों के कब्जे से नाग नागिन के 2 जोड़े मुक्त कराते हुए जंगल में छुड़वा दिये। इसके अलावा उन्होंने जोगियों को 2200 रुपए सहायता राशि के रूप में प्रदान किए है। इसके साथ ही मौजूद स्टाफ ऊषा राजपूत ने 500 रुपये, बंदना 200 रुपये, सुघर सिंह ने 200 रुपये, जीवन लाल ने 100 रुपये एवं संतोष ने 100 रुपये जोगियों को सहायता राशि के रूप में प्रदान किए हैं। कुल मिलाकर 3 हजार 300 रुपये जोगियों को दिए गये हैं। इस दौरान अपर पुलिस अधीक्षक श्रीमती चौहान ने कहा कि वह धार्मिक अनुष्ठानों का हमेशा समर्थन करती हैं तथा धार्मिक कार्यों से कभी पीछे नहीं हटती हैं। साथ ही बढ़ चढ़कर प्रतिभाग करने का प्रयास हमेशा करती हैं। विकासखंड औरैया के अलावा विकासखंड सहार, बिधूना, एरवाकटरा, अछल्दा, भाग्यनगर व अजीतमल के अलावा ग्रामीणांचलों में भी नाग पंचमी का त्यौहार परंपरागत तरीके से मनाया गया। हिन्दुस्थान समाचार/सुनील/मोहित-hindusthansamachar.in

अन्य खबरें

No stories found.