Additional commissioner verified the houses acquired at Kushinagar Airport, outrage
Additional commissioner verified the houses acquired at Kushinagar Airport, outrage
उत्तर-प्रदेश

अपर आयुक्त ने कुशीनगर एयरपोर्ट में अधिग्रहित मकानों का सत्यापन किया, आक्रोश

news

कुशीनगर, 29 दिसम्बर(हि.स.)। कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के विस्तारीकरण में पड़ने वाले आवासीय मकानों का सत्यापन करने मंगलवार दोपहर बाद अपर आयुक्त प्रशासन अजय कांत सैनी टेक्निकल टीम के साथ भलुही मदारी पट्टी पहुंचे। जहां उनको ग्रामीणों के आक्रोश का सामना करना पड़ा। उनके हस्तक्षेप के उपरांत ठोस आश्वासन मिलने पर आक्रोशित ग्रामीण शांत हुए। ग्रामीणों का आरोप था कि तीन महीने से मकान के मुआवजे को लेकर पैमाइश चल रही है। अभी तक पता नहीं है कि मकानों को किस दर से मुआवजे का निर्धारण किया गया है। एयरपोर्ट विस्तारीकरण में 34 एकड़ जमीन की आवश्यकता है। इस जमीन के अंदर दो गांवों के 57 परिवारों के घर उजड़ रहे हैं। इसमें भलुही मदारी पट्टी व बेलवा दुर्गा राय के क्रमशः36 व 21 मकान उजड़ रहे हैं। इन मकानों का मुआवजा देकर ध्वस्त करना है। अपर आयुक्त के पहुंचते ही प्रभावित मकान मालिकों से बिजली का बिल,पानी का बिल,आधार कार्ड,वोटर कार्ड आदि की मांग करते हुए मकानों की तरफ इशारा करते हुए किसी को 30 व 35 साल पुरानी बताने लगे। इस पर मौजूद मकान मालिकों ने एतराज जताते हुए हंगामा शुरू कर दिया। कुछ देर तक गहमागहमी के बाद माहौल शांत हुआ। मकान मालिकों का आरोप था कि 12 से अधिक बार मकानों के कारपेट एरिया की विभिन्न टीमों की तरफ से पैमाइश किया जा चुका है। लेकिन किसी ने अभी तक मकान मालिकों को किस दर से मुआवजा दिया जाएगा, यह नहीं बताया है। प्रभावित मकान मालिकों की तरफ से अगुवाई करते हुए राकेश धर दिवेदी व अंबरीष चौबे ने मौजूद अधिकारियों के समक्ष मजबूती से अपना पक्ष रखा। माहौल शांत होने पर अपर आयुक्त ने अपने सामने दो मकान जिसमें मालती देवी व वरुण कुमार श्रीवास्तव के कारपेट एरिया की पैमाइश कराकर सत्यापित किया गया। जो पहले से हुए पैमाइश के क्षेत्रफल के ही बराबर मिला। प्रभावित मकान मालिकों में रामसकल धर दिवेदी, वैद्यनाथ दुबे, सोनू चौबे, रमाशंकर दुबे, उमेश दुबे, आलोक दुबे,चंद्रभूषण मिश्र, अमित मिश्र, उमेश गोंड आदि ने निष्पक्ष व न्यायपूर्ण कार्रवाई की अपेक्षा की। इस मौके पर सीडीओ अन्नपूर्णा गर्ग, एडीएम विंध्यवासिनी राय, तहसीलदार दीपक गुप्ता, पीडब्ल्यूडी एक्सईएन हेमराज सिंह, अवर अभियंता राजेश त्रिपाठी, आर एन राव, राजस्व निरीक्षक अरविंद पति त्रिपाठी,लेखपाल हरिशंकर सिंह,ब्रजेश मणि त्रिपाठी,अजय श्रीवास्तव टीम में शामिल रहे। हिन्दुस्थान समाचार/गोपाल-hindusthansamachar.in