928-health-workers-will-be-vaccinated-in-half-a-dozen-centers-in-hamirpur
928-health-workers-will-be-vaccinated-in-half-a-dozen-centers-in-hamirpur
उत्तर-प्रदेश

हमीरपुर में आधा दर्जन केंद्रों में 928 स्वास्थ्य कर्मियों को लगेगा टीका

news

- जिले में शुक्रवार को होगा कोरोना वैक्सिनेशन, तैयारियां पूरी - 16 जनवरी को टीका लगवाने वाले स्वास्थ्य कर्मियों ने अनुभव साझा किए हमीरपुर, 21 जनवरी (हि.स.)। जनपद में कल 22 जनवरी को कोरोना वैक्सिेशन के दूसरे चरण में कुल आधा दर्जन स्वास्थ्य केंद्रों में 928 स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं का टीकाकरण होगा। इन सभी को कोविन एप के माध्यम से वैक्सिनेशन के संदेश पहुंचने शुरू हो गए हैं। उधर, 16 जनवरी को टीका लगवाने वाले स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं ने अपना अनुभव साझा करते हुए कहा कि शुरुआत में वैक्सीन को लेकर जो भ्रम और दुविधा थी, वह दूर हो चुकी है। उन्होंने अपने साथी कर्मियों से भी बेहिचक टीका लगवाने की अपील की है। जनपद में 16 जनवरी को स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं से टीकाकरण की शुरुआत हुई थी। शासन से जनपद को कुल 6400 कोरोना वैक्सीन का डोज मिला है। इसके हिसाब से कुल 2995 स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को वैक्सीनेशन के लिए चुना गया है। इनमें से 224 वैक्सीन लगवा चुके हैं। शेष बचे 2771 स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को 22, 28 व 29 जनवरी को टीका लगाने की तैयारी है। शुक्रवार को जिले में 928 स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं का आधा दर्जन स्वास्थ्य केंद्रों में टीकाकरण होगा। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.आरके सचान ने बताया कि कुरारा सीएचसी में 210, छानी में 102, मौदहा में 202, मुस्करा में 200, जिला महिला एवं पुरुष अस्पताल में 214 चिन्हित स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को वैक्सीन लगाई जाएगी। इन सभी को कोविन एप के माध्यम से टीका लगने की सूचना भेजी जा चुकी है। तैयारी पूरी की जा चुकी है। सभी केंद्रों में वैक्सीन उपलब्ध करा दी गई है। सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक टीकाकरण होगा। वैक्सीन लेने से नहीं हुई कोई परेशानी कोरोना वैक्सीन का 16 जनवरी को टीका लगवाने वाले महामारी रोग विशेषज्ञ डॉ.संदीप ने बताया कि टीका पूरी तरह से सुरक्षित है। इसका किसी किस्म का कोई साइड इफेक्ट नहीं है। स्वास्थ्य कार्यकर्ता बिना हिचक के टीका लगवाए। स्वास्थ्य विभाग के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी उमाशंकर ने गुरुवार को बताया कि उसे शुरू में घबराहट हो रही थी, लेकिन टीका लगने के बाद सब कुछ दूर हो गया। चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी योगेंद्रनाथ ने टीका लगने के पांचवें दिन भी पूरी तरह से स्वस्थ हैं। उन्होंने बताया कि उन्हें कोई दिक्कत नहीं हुई। उनमें टीकाकरण को लेकर उत्साह था। इसी तरह मलेरिया विभाग के 57 वर्षीय फील्ड वर्कर रशीद खान भी टीकाकरण से किसी किस्म की कोई दिक्कत महसूस नहीं कर रहे हैं। वैक्सीन सुरक्षित, समय से पहुंचे कर्मी मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.आरके सचान ने गुरुवार को बताया कि कोरोना वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित है। अभी तक जितने भी स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को वैक्सीन लगाई गई है, किसी को कोई परेशानी नहीं हुई है। वैक्सीन लेने वाले स्वास्थ्य कार्यकर्ता किसी भी किस्म का भ्रम न पालें। कोरोना की रोकथाम के लिए वैक्सीनेशन महत्वपूर्ण है। आज भी समय से केंद्रों में पहुंचकर वैक्सीन लगवाएं। इन दस्तावेजों को लेकर टीकाकरण कराने जाएं कोविड-19 टीकाकरण के लिए जाएं तो अपना एक पहचान पत्र जरूर ले जाएं। इसमें आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आइडी एवं पैन कार्ड, पासपोर्ट, जॉब कार्ड, पेंशन दस्तावेज, मनरेगा कार्ड, स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, सांसदों, विधायकों, एमएलसी को जारी आधिकारिक प्रमाण पत्र, बैंक, पोस्ट ऑफिस की पासबुक, केंद्र, राज्य सरकार या पब्लिक लिमिटेड कंपनियों द्वारा जारी सेवा आईडी कार्ड आदि में कोई एक हो सकता है। हिन्दुस्थान समाचार/ पंकज/ मोहित-hindusthansamachar.in