5,706 कोरोना नमूनों की जांच में 136 संक्रमित, लखनऊ के 52 रोगी
5,706 कोरोना नमूनों की जांच में 136 संक्रमित, लखनऊ के 52 रोगी
उत्तर-प्रदेश

5,706 कोरोना नमूनों की जांच में 136 संक्रमित, लखनऊ के 52 रोगी

news

लखनऊ, 17 जुलाई (हि.स.)। प्रदेश में तमाम प्रयासों के बावजूद कोरोना संक्रमण के तेजी से बढ़ते मामलों के कारण सरकार की मुश्किलें काफी बढ़ गई है। राज्य की सभी प्रयोगशालाओं को मिलाकर हर रोज अब डेढ़ से दो हजार नए लोगों में संक्रमण की पुष्टि हो रही है। राजधानी की किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) के माइक्रोबायोलॉजी विभाग में गुरुवार को जांच किये गए 5,706 नमूनों में 136 की रिपोर्ट शुक्रवार को पॉजिटिव आई। इनमें लखनऊ के 52, संभल के 20, कन्नौज के 18, हरदोई व बराबंकी के 16-16, गोरखपुर-शाहजहांपुर के 03-03, बहराइच के 02 तथा सीतापुर, ललितपुर, श्रावस्ती, सुलतानपुर, वाराणसी व बलरामपुर का 01-01 रोगी शामिल है। इसके साथ ही कई अन्य प्रयोगशालाओं की रिपोर्ट में भी कोरोना के नए मामलों की पुष्टि हुई है। संत कबीरनगर में शुक्रवार को 412 सैंपल की रिपोर्ट आई। इसमें 12 लोग संक्रमित पाए गए हैं। इनमें सर्वाधिक नाथनगर ब्लॉक में चार, बेलहरकला ब्लॉक में तीन, हैंसर बाजार ब्लॉक में दो, खलीलाबाद ब्लॉक में दो तथा बघौली ब्लॉक में एक मरीज मिले है। इन सभी पाॅजिटिव मरीजों को उपचार के लिए सेंट थामस इंटर कालेज-खलीलाबाद के कोरोना एल वन वार्ड में भर्ती किया जा रहा है। जनपद में अब तक सात लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है। अब तक कुल संक्रमितों में 292 पाॅजिटिव मरीज स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं। वहीं 197 पाॅजिटिव मरीजों का कोरोना वार्ड में अब भी उपचार चल रहा है। वहीं ताजनगरी आगरा में गुरुवार रात 15 नए केस सामने आए। शुक्रवार सुबह तक कोरोना संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 1,454 पहुंच गई। अब तक 94 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं 1,201 लोग ठीक होकर घर भेजे जा चुके हैं। वर्तमान में 159 सक्रिय मामले शहर में हैं। हमीरपुर जनपद में शुक्रवार को तहसील के दो कर्मचारी समेत 11 लोगों के कोरोना से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। जनपद में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या अब 145 हो गयी है। वहीं 89 लोग ठीक होकर घर भेजे जा चुके हैं। वाराणसी में शुक्रवार को अभी तक बीएचयू लैब से प्राप्त 199 रिपोर्ट में से 20 नये कोरोना संक्रमित मरीज पाये गये। इसमें गुरुवार देर रात मिले मरीज भी शामिल हैं। नये मरीजों को मिलाकर जिले में कोरोना मरीजों की संख्या 1067 हो गई है। वहीं, 499 मरीज स्वस्थ होकर अपने अपने घरों को लौट चुके है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.वीबी सिंह के अनुसार जिले में सक्रिय मरीजों की संख्या 538 है। इस बीच कोरोना संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए अब नए सिरे से रणनीति बनाने और प्रभावी मॉडल पर मंथन करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कमर कस ली है। उन्होंने अफसरों को निर्देश दिए हैं कि कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने और मरीजों की निगरानी कैसे करें, इसका एक प्रभावी माॅडल मंथन के उपरान्त तय किया जाए। इसके साथ ही बड़े जनपदों की प्रभावी निगरानी की जाए। एसजीपीजीआई, केजीएमयू, लोहिया संस्थान के वरिष्ठ डाॅक्टरों की टीम बनाएगी रणनीति कोरोना संक्रमण के फैलाव की स्थिति से निपटने के लिए राजधानी के एसजीपीजीआई, केजीएमयू, डाॅ. राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान के निदेशकों, वरिष्ठ डाॅक्टरों की एक टीम गठित की जा रही है। यह टीम इस सम्बन्ध में प्रभावी रणनीति बनाएगी। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने रैपिड एन्टीजन टेस्ट किट्स ज्यादा संख्या में मंगाकर सभी जनपदों में भेजने के निर्देश दिए। साथ ही, अन्य तरीकों से भी टेस्टिंग की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिन जनपदों में संक्रमण तेजी से फैल रहा है, वहां रैपिड एन्टीजन टेस्ट किट्स ज्यादा संख्या में भेजी जाएं, ताकि टेस्टिंग की संख्या बढ़ायी जा सके। हिन्दुस्थान समाचार/संजय-hindusthansamachar.in