39systematic-traffic-management-plan39-will-improve-deteriorated-traffic-system-in-kanpur---s-moorthy
39systematic-traffic-management-plan39-will-improve-deteriorated-traffic-system-in-kanpur---s-moorthy
उत्तर-प्रदेश

कानपुर में 'सिस्टमैटिक ट्रैफिक मैनेजमेंट प्लान' से सुधरेगी बिगड़ी ट्रैफिक व्यवस्था - एस मूर्थी

news

— पुलिस उपायुक्त यातायात ने पहले चरण में लाइफ लाइन जीटी रोड पर ट्रैफिक दुरुस्त करने की शुरु की कवायद कानपुर, 03 अप्रैल (हि.स.)। कानपुर में पुलिस कमिश्नर प्रणाली लागू होने के बाद जनपद की बिगड़ी ट्रैफिक व्यवस्था को कंट्रोल किए जाने पर विशेष ध्यान देने में अफसर जुट गए हैं। प्रमुख चौराहों पर वाहन सवार जनता को जाम से निजात दिलाने के लिए अधिकारियों ने रणनीति बनाई तैयार की है। शहर में ट्रैफिक सुव्यवस्थित हो इसको लेकर उपायुक्त यातायात ने 'सिस्टमैटिक ट्रैफिक मैनेजमेंट प्लान' तैयार किया है। इसके तहत प्रथम चरण में लाइफ लाइन जीटी रोड के तीन किलोमीटर की सड़क को लिया गया है। शहर में ट्रैफिक की अव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए पुलिस आयुक्त असीम अरुण की कवायद को यातायात विभाग द्वारा अमलीजामा पहनाया जाने लगा है। ट्रैफिक सुधार को लेकर शनिवार को पुलिस लाइन में पुलिस उपायुक्त यातायात एस मूर्थी ने कार्यशाला की। यहां पर उन्होंने बताया कि, औद्योगिक नगरी कानपुर में यातायात को सुचारु रूप से चलाने के लिए आईटीएमएस सिस्टम (एकीकृत यातायात प्रबंधन प्रणाली) के जरिये ट्रैफिक कंट्रोल किया जा रहा था। लेकिन कई चौराहों पर सिग्नल लाइट खराब होने के चलते जाम की समस्या उत्पन्न हो रही थी जिससे जनता को जाम से जूझना पड़ रहा है। इस समस्या को देखते हुए अब चौराहों पर लगी ट्रैफिक लाइटों को विभागों से बातचीत कर दुरुस्त किया जाएगा। यातायात को बेहतर बनाने के लिए कॉरीडोर प्लान तैयार किया गया है जिसके तहत इस सिस्टम में पहले चरण में काम भी शुरु कर दिया गया है और टाटमिल चौराहे का सिग्नल दुरूस्त करते हुए कंट्रोल रुम से जोड़ जा चुका है। चौराहे पर ट्रैफिक लोड की चेकिंग के बाद झकरकटी बस अड्डे की ओर से आने वाली सड़क पर चौराहे के पास सिग्नल की टाइमिंग को बढ़ाया गया है ताकि जाम से निजात मिल सके। चौराहे पर लगेंगे बाइक राइडर्स क्विक रिस्पांस टीमें पुलिस उपायुक्त यातायात ने बताया कि, इस बार बाइक राइडर्स पुलिस की क्विक रिस्पांस टीम बनाई गई है जो लगातार सभी प्रमुख चौराहों पर गस्त करके यातायात में आ रही समस्याओं को दूर करेंगे। ट्रैफिक कॉरीडोर में कोई अनावश्यक वाहन पार्क किये जाते हैं तो उसके विरुद्ध कार्यवाही करने के लिए क्रेन लगाई जायेगी। पूरे कॉरिडोर को व्यवस्थित करने के लिए एक इंटरसेप्टर लगातार भ्रमणशील रहेगी और यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहनों के विरुद्ध कार्यवाई करेगी। जीटी रोड से सटी रेलवे लाइन की 14 क्रासिंगों को बनाया जाएगा जाम मुक्त पुलिस उपायुक्त यातायात मूर्थी ने बताया कि कानपुर महानगर की सबसे प्रमुख समस्या जीटी रोड से सटे रेलवे लाइन है। यहां पर 14 रेलवे फाटक हैं जो जाम की समस्या बने हुए हैं। जरीब चौकी चौराहे से लेकर कल्याणपुर तक शहर के बीचोबीच से निकली रेलवे लाइन पर ट्रेन आने से पहले जब फाटक बंद होता है तब वाहन चालक ट्रैफिक रूल तोड़ते हुए विपरीत दिशा में आ जाते हैं। ट्रेन गुजरने के बाद जब फाटक खुलता है तब लंबा जाम लग जाता है। इस समस्या को दूर करने के लिए लंबा डिवाइडर बनाया जाएगा, जिससे लोग अपनी लेन में ही रहे। उनका कहना है कि अगर इसके बाद भी लोग ट्रैफिक नियमों को तोड़ेंगे तो उनके खिलाफ कार्यवाही निश्चित की जाएगी। शहर में यायायात से जुड़ी समस्या को लेकर उन्होंने 7839863369 पर कॉल करने पर विभागीय टीम द्वारा तुंरत मौके पर पहुचकर मद्द व जाम खुलवाने की बात कही है। हिन्दुस्थान समाचार/हिमांशु