प्लाज्मा दान करने के लिए लोगों को प्रेरित करने में जुटी संस्था ‘प्रथम पहल’

प्लाज्मा दान करने के लिए लोगों को प्रेरित करने में जुटी संस्था ‘प्रथम पहल’
39first-initiative39-an-organization-to-inspire-people-to-donate-plasma

- मुफ्त एंटीबॉडी चेक कराकर, लोगों को प्लाज्मा दान के लिए कर रही प्रोत्साहित झांसी,07 मई (हि.स.)। कोविड उपचाराधीन गंभीर मरीजों को जहां एक तरफ ऑक्सीजन की आवश्यकता पड़ रही है वहीं उपचार में सहायक प्लाज्मा मुहैया कराना भी एक चुनौती बन गया है। क्योंकि प्लाज्मा बनाया नहीं जा सकता, यह सिर्फ डोनेट ही किया जा सकता है। प्रशासन ने भी एक कंट्रोल रूम बनाकर ऐसे लोगों से प्लाज्मा दान करने के लिए संपर्क शुरू कर दिया है जो हाल ही में कोविड को मात देकर स्वस्थ हुये हैं। ऐसे ही एक प्रयास जनपद में कुछ सदस्यों के द्वारा चलायी जा रही ‘प्रथम पहल’ संस्था भी कर रही है। संस्था के सदस्य विकल्प जैन बताते हैं कि पिछले महीने अप्रैल में जब कोविड का तेजी से फैलाव हुआ तो ऐसे में प्लाज्मा की मांग भी बढ़ गयी। चुनिन्दा डोनर्स होने के कारण मांग के अनुसार पूर्ति हो ही नहीं पा रही थीद्य ऐसे में विचार किया कि अभी ऐसा समय चल रहा है कि कई लोग घर पर ही कोविड को मात देकर स्वस्थ हुए हैं तो ऐसे में सभी को एक बार अपना एंटीबॉडी जांच जरूर करानी चाहिए। लेकिन ऐसे ही एंटीबॉडी जांच कराना महंगा भी है और ऐसे में व्यक्ति कहां जाकर अचानक से जांच कराये, इसी समस्या को हल करते हुये गत 24 अप्रैल से हमने नगर के निजी ब्लड बैंक से बात की और लोगों से एंटीबॉडी जांच कराने का अनुरोध किय। यह तय हुआ कि जांच का खर्चा संस्था द्वारा उठाया जाएगा। वह बताते है गत 13 दिनों में लगभग 70-80 लोगों ने एंटीबॉडी जांच कराई है जिसमें से लगभग 60-65 लोगों में एंटीबॉडी निकली और उन्होने प्लाज्मा दान भी किया। यह एक ऐसा प्रयास है जिससे कम से कम लोग जांच कराने के लिए आए और जरूरत पड़ने पर लोगों की मदद भी कर सके। विकल्प बताते हैं कि वह लोग न सिर्फ प्लाज्मा बल्कि जिन लोगों को खाने की जरूरत है वह भी उनकी संस्था द्वारा मुहैया कराया जा रहा है पिछले वर्ष भी कोरोना काल में उनकी संस्था के सदस्यों के द्वारा प्रवासी मजदूरों को खाना, राशन, दवाइयां तक मुहैया कराई गयी थीं। संस्था में उज्ज्वल मोदी, सजल जैन चैनू, सुमित अग्रवाल, विक्की अग्रवाल, शिशिर पुरोहित, सुध्यांशु विजयवर्गिय आदि मुख्य सदस्य है, इसके अलावा कई लोग वॉलंटियर के रूप में श्रमदान करते है। मदद देने और लेने के लिए यहां कर सकते है संपर्क विकल्प जैन बताते है कि यदि कोई एंटीबॉडी जांच कराना चाहते है तो वह इस नंबर 9838778794 पर संपर्क कर सकते है। साथ ही प्लाज्मा दान और लेने के लिए इसी नंबर पर संपर्क किया जा सकता है। क्या है प्लाज्मा हमारे शरीर में खून कई चीजों से बनता है। खून में 55 प्रतिशत प्लाज्मा होता है बाकि 45 प्रतिशत रेड ब्लड सेल्स, ह्वाइट ब्लड सेल्स और प्लेटलेट्स होते हैं। खून में मौजूद प्लाज्मा शरीर का ब्लड प्रेशर सामान्य करता है, खून के थक्के और इम्युनिटी भी प्रदान करता है, सोडियम और पोटैशियम को मांसपेशियों तक पहुंचाता है। शरीर का पीएच लेवल बनाये रखता है जो सेल्स के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। हिन्दुस्थान समाचार/महेश