21 करोड़ की लागत से मेरठ में बनेंगे दो राजकीय महिला डिग्री काॅलेज
21 करोड़ की लागत से मेरठ में बनेंगे दो राजकीय महिला डिग्री काॅलेज
उत्तर-प्रदेश

21 करोड़ की लागत से मेरठ में बनेंगे दो राजकीय महिला डिग्री काॅलेज

news

मेरठ, 12 सितम्बर (हि.स.)। प्रदेश सरकार द्वारा सबका साथ सबका विकास के संकल्प के साथ अल्पसंख्यक समुदाय के उत्थान के लिए भी निरंतर प्रयास किये जा रहे हैं। प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम अन्तर्गत अल्पसंख्यक बाहुल्य क्षेत्रों में मूलभूत सुविधाओं की स्थापना की जा रही है। 21 करोड़ रुपये की लागत से मेरठ में दो राजकीय महिला डिग्री काॅलेज स्थापित किए जाएंगे। इसके साथ ही मेरठ के प्राथमिक, उच्च प्राथमिक व इंटर काॅलेजों में 232 स्मार्ट क्लास चलाई जा रही है। मेरठ मंडल के उप निदेशक अल्पसंख्यक कल्याण मोहम्मद तारिक ने बताया कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल में शादी अनुदान योजना के अन्तर्गत अल्पसंख्यक समुदाय के अभिभावकों को सहायता दी जाएगी। इसमें शहरी क्षेत्र में वार्षिक आय 56,460 रुपये तथा ग्रामीण क्षेत्र में 46,080 रुपये प्रतिवर्ष की आय होनी चाहिए। अब तक ऐसे 1277 लाभार्थियों को 255.4 लाख रुपये की सहायता दी गई है। उन्होंने बताया कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल में पूर्व दशम छात्रवृत्ति योजना के अन्तर्गत एक लाख रुपये वार्षिक आय वाले अल्पसंख्यक समुदाय के कक्षा नौ और दस के 3334 छात्रों को 92.2 लाख रुपए की धनराशि दी गई है। दशमोत्तर छात्रवृत्ति योजना के अन्तर्गत अल्पसंख्यक समुदाय के 24,425 छात्रों को 1105.57 लाख रुपये की धनराशि जारी की गई। मेरठ जनपद के स्कूलों में 232 स्मार्ट क्लास चलाई जा रही है। इसके साथ ही 21 करोड़ रुपये की लागत से मेरठ ब्लाॅक के महरौली गांव में और परीक्षितगढ़ ब्लाॅक के बली गांव में दो राजकीय महिला डिग्री काॅलेज स्थापित किए जाएंगे। खरखौदा में राजकीय आईटीआई के आधुनिकीकरण के लिए 518.82 लाख रुपये खर्च किए जा रहे हैं। राजकीय बालिका इंटर काॅलिज हापुड़ रोड मेरठ में 96.70 लाख की लागत से 10 अतिरिक्त कक्षा कक्षों का निर्माण किया जा रहा है। प्राथमिक एवं जूनियर हाईस्कूल में अतिरिक्त 48 कक्षा कक्षों के निर्माण के लिए 178.56 लाख रुपये की मंजूरी शासन से मिली है। हिन्दुस्थान समाचार/कुलदीप/संजय-hindusthansamachar.in