हाथ धोने का महत्व लोगों ने कोरोना के समय समझा और जाना : योगी आदित्यनाथ
हाथ धोने का महत्व लोगों ने कोरोना के समय समझा और जाना : योगी आदित्यनाथ
उत्तर-प्रदेश

हाथ धोने का महत्व लोगों ने कोरोना के समय समझा और जाना : योगी आदित्यनाथ

news

-मुख्यमंत्री ने 'हाथ धोना रोके कोरोना' अभियान का किया शुभारम्भ लखनऊ, 15 अक्टूबर (हि.स.)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वर्ल्ड हैंड वाशिंग डे के मौके पर गुरुवार को 'हाथ धोना रोके कोरोना' अभियान का शुभारम्भ किया। इस मौके पर उन्होंने यू राइज पोर्टल के माध्यम से अपने सम्बोधन में कहा कि हम सब हैंडवॉशिंग का महत्व सामान्य दिनचर्या के रूप में जानते हैं। लेकिन, आधुनिक जीवन शैली के कारण बहुत बार लोग इन सभी क्रियाकलापों से दूरी बना लेते हैं। इसका परिणाम हमारे सामने अनेक बीमारियों के रूप में सामने आ जाता है। उन्होंने कहा कि हैंडवॉशिंग का महत्व हमने कोरोना के समय समझा और जाना है। हालांकि स्वास्थ्य विशेषज्ञ पहले से ही इसके बारे में अवगत कराते रहे हैं। इसके बारे में उनकी चेतावनी व उनके द्वारा दिए जाने वाले सुझाव अत्यंत महत्वपूर्ण रहे हैं। कोरोना को सदी के सबसे तीव्र संक्रमण के रूप में देखा गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि सामान्य दिनचर्या में हैंडवॉशिंग का महत्व उतना ही महत्वपूर्ण हो जाता है, जितना किसी बीमारी के उपचार के समय बरती जाने वाली सावधानियां महत्वपूर्ण होती हैं। 15 अक्टूबर को दुनिया 'वर्ल्ड हैंडवॉश डे' के रूप में मना रही है। उन्होंने प्रसन्नता जतायी कि सूचना विभाग ने इसे प्रदेश भर में आगे बढ़ाने के साथ ही प्राविधिक शिक्षा, व्यावसायिक शिक्षा व कौशल विकास से जुड़े विभागों को भी जोड़ा। मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि हम इस सामान्य आदत को ठीक कर लें तो विभिन्न संक्रामक बीमारियों से बचाव में मदद मिलेगी। विशेष तौर पर कोरोना संक्रमण के इस कालखण्ड में सावधानी और भी अधिक महत्वपूर्ण हो जाती है। उन्होंने उम्मीद जतायी कि प्रदेश में इस अवसर पर संचालित रचनात्मक कार्यक्रमों के साथ प्रत्येक नागरिक जुड़ेगा और स्वच्छता को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाएगा। उन्होंने कहा कि हम सभी सामान्य सी दिखने वाली स्वच्छता की आदतों को अपनाकर एक स्वस्थ एवं आरोग्यपूर्ण जीवन जी सकते हैं। हिन्दुस्थान समाचार/संजय-hindusthansamachar.in