हमीरपुर: मिट्टी की टीला धसने से महिला की मौत, पांच अन्य घायल
हमीरपुर: मिट्टी की टीला धसने से महिला की मौत, पांच अन्य घायल
उत्तर-प्रदेश

हमीरपुर: मिट्टी की टीला धसने से महिला की मौत, पांच अन्य घायल

news

-कच्चे घर की मरम्मत, लिपाई और पुताई के लिये गांव के बाहर नाले किनारे महिलायें खोदने गयी थी मिट्टी हमीरपुर, 13 सितम्बर (हि.स.)। सुमेरपुर थाना क्षेत्र के मौंहर गांव में रविवार को मिट्टी की टीला धसकने से एक महिला की मौके पर मौत हो गयी, वहीं बालिका समेत पांच महिलायें गंभीर रूप से घायल हो गयी। मिट्टी के मलबे में दबे लोगों को बाहर निकालकर सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इस घटना से गांव में मातम छा गया है। क्षेत्र में बारिश का दौर खत्म होने के बाद अब कच्चे घरों की मरम्मत व लिपाई पुताई का कार्य गांवों में चल रहा है। महिलायें रोजाना मिट्टी खोदकर घर में एकत्र कर रही है। ज्यादातर गांवों में तालाब, नालों व पोखरों आदि किनारे से चिकनी मिट्टी खोदकर घर लाने के काम में महिलायें जुटी है। जहां अच्छी मिट्टी निकलती है तो महिलायें उसी जगह पर खुदाई ज्यादा करती है जिससे वहां पर टीला बन जाता है। ऐसा ही सुमेरपुर क्षेत्र के मौंहर गांव में भी हुआ। गांव के बाहर नाला किनारे गांव निवासी रीना देवी (22) पत्नी जगदीश निषाद, श्रीमत (50) पत्नी जयपाल निषाद, बोधिल (17) पुत्री जयपाल, रज्जन देवी (45) पत्नी छोटेलाल निषाद, पूजा (11) पुत्री छोटेलाल निषाद व काजल (8) पुत्री छोटेलाल निषाद मिट्टी लेने रविवार को घर से गयी थी। ये सभी महिलायें नाले किनारे मिट्टी की खुदाई कर रही थी तभी मिट्टी का बड़ा टीला धसक गया जिससे सभी लोग मिट्टी के टीले में दब गये। घटना की सूचना मिलने पर गांव के लोग और पारा रैपुरा के ग्राम प्रधान बिहारी लाल प्रजापति मौके पर पहुंचे। दो एम्बुलेंस भी मौके पर पहुंची। मिट्टी का मलबा हटाकर सभी को बाहर निकाला गया लेकिन उससे पहले ही रीना देवी की मौत हो गयी। वहीं अन्य महिलाओं और बालिकाओं को गंभीर हालत में एम्बुलेंस की मदद से पहले प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र सुमेरपुर भेजा गया जहां हालत नाजुक होने पर सभी घायलों को सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया है। घटना की सूचना पर सुमेरपुर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेजा। अचानक हुई इस घटना से परिवार में कोहराम मचा हुआ है। रीना की तीन साल पहले शादी हुयी थी। वह एक बच्ची की मां थी। बता दे कि जनपद में हर साल इन्हीं दिनों मिट्टी की खुदाई के दौरान कई घटनायें होती है। पिछले साल भी इसी तरह की घटना में कई लोग मरे थे। हिन्दुस्थान समाचार/पंकज-hindusthansamachar.in