स्कूल खोलने का के विरोध में लोगों का कमिश्नरी पर प्रदर्शन
स्कूल खोलने का के विरोध में लोगों का कमिश्नरी पर प्रदर्शन
उत्तर-प्रदेश

स्कूल खोलने का के विरोध में लोगों का कमिश्नरी पर प्रदर्शन

news

मेरठ, 15 अक्टूबर (हि.स.)। कोरोना आपदा में 19 अक्टूबर से स्कूल खोले जाने का विरोध शुरू हो गया है। गुरुवार को इंद्रप्रस्थ प्रदेश संघर्ष मोर्चा के बैनर तले लोगों ने कमिश्नरी पर प्रदर्शन किया और शिक्षा माफिया के दबाव में स्कूल खोले जाने का आरोप लगाया। कमिश्नरी पार्क में गुरुवार को इंद्रप्रस्थ प्रदेश संघर्ष मोर्चा के बैनर तले लोग इकट्ठा हुए और प्रदर्शन किया। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार ने स्कूल खोलने का निर्णय शिक्षा माफिया के दबाव में लिया है। संविधान को ताक पर रखकर शिक्षा का व्यवसायीकरण कर दिया गया है। पूंजीपति शिक्षा को व्यापार की तरह प्रयोग कर रहे हैं। एक-एक व्यक्ति कई-कई शिक्षण संस्थान खोलकर वारे-न्यारे कर रहा है। उन्होंने शिक्षा के व्यवसायीकरण को तत्काल खत्म किए जाने और शिक्षण संस्थानों के जरिए करोड़ों का मुनाफा कमा रहे व्यापारियों से रिकवरी किए जाने की मांग की। उन्होंने कोरोना काल के दौरान सभी छात्रों की फीस माफी की मांग उठाई और सरकार से स्कूल खोले जाने के फैसले को वापस लिए जाने की मांग की। सरकार ने नौनिहालों की जान के साथ खिलवाड़ किया तो देशभर में बड़ा आंदोलन चलाया जाएगा। इस मौके पर अचल सिंह, महेंद्री, राजेंद्र आदि मौजूद थे। हिन्दुस्थान समाचार/कुलदीप/राजेश-hindusthansamachar.in