सेना व किसानों के मनोबल को तोडने का काम कर रहे विपक्षी दल : केशव प्रसाद मौर्य
सेना व किसानों के मनोबल को तोडने का काम कर रहे विपक्षी दल : केशव प्रसाद मौर्य
उत्तर-प्रदेश

सेना व किसानों के मनोबल को तोडने का काम कर रहे विपक्षी दल : केशव प्रसाद मौर्य

news

- प्रधानमंत्री पर है जनता का विश्वास, कामयाब नहीं होंगे विपक्षी दल कानपुर, 22 सितम्बर (हि.स.)। विपक्षी पार्टियां किसानां को बरगलाने का प्रचार कर रही है, यही नहीं चीन पर भी विपक्षी दल सेना के मनोबल को तोडने की बात कह रहे हैं। हालांकि विपक्ष की यह कोशिश जनता कामयाब नहीं होने देगी और देश की जनता को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर पूरा भरोसा है। यह बातें मंगलवार को घाटमपुर में चुनावी सभा के दौरान विपक्षी दलों पर प्रहार करते हुए उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने कही। सूबे की प्राविधिक शिक्षा मंत्री रही स्व. कमलरानी वरुण के निधन के बाद घाटमपुर विधानसभा की सीट खाली हो चुकी है, जिसके लिए उपचुनाव होने हैं। उपचुनाव को देखते हुए लेकर सभी पार्टियों ने तैयारियां भी शुरू कर दी हैं। इसी चुनावी माहौल के बीच सूबे के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य मंगलवार को कानपुर के घाटमपुर क्षेत्र पहुंचे। डिप्टी सीएम ने विपक्षी दलों पर प्रहार करते हुए कहा कि 62 की लड़ाई में जो क्षेत्र गंवा दिए गए थे। मोदी जी के नेतृत्व में सेना ने वहां तिरंगा फहरा दिया है। उन्हांने ये भी कहा कि विपक्षियों द्वारा कृषि बिल का जो दुष्प्रचार किया जा रहा है उसके झांसे में ना आएं, यह किसानों के हित में है। इसके साथ ही उन्होनें 242 करोड़ की लागत से 212 किमी लम्बी सड़कों का और 71 परियोजनाओं का शिलान्यास किया। चुनावी शंखनाद करते हुये वे बोले कि 2020 के उपचुनाव को लेकर तैयार रहें। साथ ही उन्होंने कहा कि कैबिनेट मंत्री के खाते की सीट पर भाजपा को जितवाने के लिए एडी चोटी का जोर लगाए। उन्होनें आनूपुर मोड़ से परास चौराहा मार्ग का कमलरानी के नाम से करने की घोषणा भी की। घाटमपुर पहुंचने पर उप मुख्यमंत्री को गार्ड ऑफ आनर भी दिया गया। सपा कार्यकर्ताओं से पुलिस की हुई झड़प उप मुख्यमंत्री शहर से होकर घाटमपुर जा रहे थे और जिस समय शास्त्री चौक चौराहा के पास डिप्टी सीएम का काफिला पहुंचा था उसी समय सपा के कार्यकर्ता उनका पुतला फूंकने के आ पहुंचे। इस दौरान वहां मौजूद पुलिस बल ने उन्हें रोक लिया। इसी दौरान उनकी पुलिस से झड़प हो गई और कार्यकर्ता धरने पर बैठ गए। हिन्दुस्थान समाचार/अजय/मोहित-hindusthansamachar.in