सीतापुर: जनप्रतिनिधियों से बेहतर समन्वय स्थापित कर लागू करें योजनाएं - मंत्री स्वाती सिंह
सीतापुर: जनप्रतिनिधियों से बेहतर समन्वय स्थापित कर लागू करें योजनाएं - मंत्री स्वाती सिंह
उत्तर-प्रदेश

सीतापुर: जनप्रतिनिधियों से बेहतर समन्वय स्थापित कर लागू करें योजनाएं - मंत्री स्वाती सिंह

news

जनप्रतिनिधियों से समन्वय कर व्यापक रूप से लागू करायें योजनाएं- प्रभारी मंत्री श्रीमती स्वाती सिंह अधिकारियों के साथ बैठक कर की विकास कार्यों की समीक्षा कोरोना वायरस कोविड-19 की प्रभावी रोकथाम हेतु दिये व्यापक दिशा-निर्देश सीतापुर,16 अक्टूबर,(हि.स.)। जनपद के एक दिवसीय दौरे पर आयी राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार, महिला कल्याण, उत स्वाती सिंह ने शुक्रवार को कलेक्ट्रेट सभागार में संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक कर विकास कार्यों एवं शासन द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिये कि सभी संबंधित अधिकारी जनप्रतिनिधियों से समन्वय स्थापित करते हुये विकास योजनाओं को व्यापक स्तर पर क्रियान्वित करायें, जिससे जनता अधिक से अधिक लाभान्वित हो सके। मंत्री श्रीमती सिंह ने कोरोना वायरस कोविड-19 के विषय में समीक्षा करते हुये मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिये कि शासन के निर्देशानुसार बेहतर व्यवस्थाएं सुनिश्चित करायें तथा मृत्यु दर को और अधिक कम किये जाने के लिये प्रयास किये जायें। उन्होंने आवश्यक दवाईयों एवं संसाधनों की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित किये जाने के भी निर्देश दिये। साथ ही कांटेक्ट ट्रेसिंग के कार्य को पूरी तत्परता के साथ किये जाने के निर्देश देते हुये उन्होंने कहा कि कोई भी व्यक्ति कोरोना पाॅजिटिव पाये जाने पर उसके परिवार का तत्काल कोविड परीक्षण कराया जाये तथा उसे बेहतर सुविधाएं दी जायें। विधायकों ने की सीएमओ की शिकायत बैठक के दौरान जनप्रतिनिधियों ने सीतापुर सीएमओ डॉ आलोक वर्मा की कार्यशैली को लेकर जमकर नाराजगी प्रगट की। जनप्रतिनिधियों के मोबाइल न उठाने पर भरी बैठक में उनकी शिकायत की गयी। श्रीमती सिंह ने स्पष्ट निर्देश दिये कि कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिये कड़े कदम उठाये जायें। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी विधायकगणों से समन्वय स्थापित करते हुये क्षेत्र की समस्याओं का प्राथमिकता के आधार पर निस्तारण कर उन्हें अवगत कराना सुनिश्चित करें। इस कार्य में बिल्कुल शिथिलता न बरती जाये। विधायकगण और अन्य जनप्रतिनिधि लगातार जनता के सम्पर्क में रहते हैं इसलिये क्षेत्र की समस्याओं एवं आवश्यकताओं से भलीभांति अवगत रहते हैं। उनसे क्षेत्र की प्राथमिकताओं की जानकारी प्राप्त करके तद्नुसार कार्ययोजना बनाकर कार्य करने से निश्चित ही जनपद का विकास और अधिक गति से हो सकेगा। उन्होंने निर्देश दिये कि योजनाओं के क्रियान्वयन में यदि किसी भी स्तर पर भ्रष्टाचार से संबंधित कोई शिकायत प्राप्त हो तो प्राथमिकता के आधार पर उसकी जांच कराकर दोषियों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जाये। बैठक के दौरान जिलाधिकारी विशाल भारद्वाज ने अवगत कराया कि कोरोना वायरस संक्रमण की चैन को तोड़ने तथा प्रभावित लोगों के बेहतर उपचार के लिये शासन के निर्देशानुसार हर सम्भव प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि सर्विलांस टीमों के माध्यम से लक्षणयुक्त रोगियों की पहचान कर उनका परीक्षण एवं उपचार सुनिश्चित कराया जा रहा है। कांटेक्ट ट्रेसिंग का कार्य भी तत्परतापूर्वक किया जा रहा है। साथ ही संबंधित अधिकारियों के साथ नियमित रूप से समन्वय स्थापित करते हुये आगे भी उसे रोकने के लिये व्यापक स्तर पर तैयारियां की जा रही हैं। बैठक में सांसद सीतापुर राजेश वर्मा, विधायक लहरपुर सुनील वर्मा, विधायक बिसवां महेन्द्र सिंह यादव, विधायक सेउता ज्ञान तिवारी, विधायक मिश्रिख रामकृष्ण भार्गव, जिलाधिकारी विशाल भारद्वाज, पुलिस अधीक्षक आरपी सिंह, मुख्य विकास अधिकारी संदीप कुमार, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. आलोक वर्मा, जिला विकास अधिकारी राकेश पाण्डेय सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे। हिन्दुस्थान समाचार/महेश शर्मा/राजेश-hindusthansamachar.in