समीक्षा बैठक से नदारत परियोजना प्रबंधक पर कार्रवाई
समीक्षा बैठक से नदारत परियोजना प्रबंधक पर कार्रवाई
उत्तर-प्रदेश

समीक्षा बैठक से नदारत परियोजना प्रबंधक पर कार्रवाई

news

- डीएम ने शासन को कार्यवाही के लिये कड़ा पत्र लिखने के दिये निर्देश, क्लेम न देने पर बीमा कंपनी भी नपेगी हमीरपुर, 05 नवम्बर (हि.स.)। विकास कार्यों की समीक्षा बैठक से नदारत उत्तर प्रदेश प्रोजेक्ट कारपोरेशन लिमिटेड उरई शाखा के परियोजना प्रबंधक के खिलाफ गुरुवार को यहां जिलाधिकारी ने कार्यवाही के लिये शासन को पत्र लिखने के निर्देश दिये है। साथ ही किसानों को समय से क्लेम न दिये जाने के मामले में बीमा एजेंसी, कम्पनी के खिलाफ धोखाधड़ी की एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिये गये है। हमीरपुर स्थित कलेक्ट्रेट मीटिंग हाल में शासन की प्राथमिकताओं एवं विकास कार्यों की समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी ज्ञानेश्वर त्रिपाठी ने अधिकारियों पर नाराजगी जताते हुये कहा कि उत्तर प्रदेश प्रोजेक्ट कारपोरेशन लिमिटेड उरई शाखा यहां जिले में राजकीय हाईस्कूल व इण्टर मीडियट के भवनों के निर्माण करा रही है लेकिन इस संस्था के परियोजना प्रबंधक ही समीक्षा बैठक से नदारत है। उन्होंने बताया कि इनके कठोर कार्यवाही के लिये शासन को कड़ा पत्र लिखा जायेगा। कहा कि किसान सम्मान निधि के जो आवेदन अभी तक लम्बित है उन्हें निस्तारित किया जाये। इसके सम्बन्धित डाटा नियमित रूप से फीड किये जाये ताकि सभी पात्र किसान इस योजना का लाभ ले सके। कहा कि जिन स्थानों की फसलें खराब हो उनका कृषि विभाग सर्वे के माध्यम से संबन्धित किसानों का क्लेम दिलाया जाये। निर्धारित समय में क्लेम न दिये जाने पर बीमा कम्पनी पर धोखाधड़ी की रिपोर्ट भी दर्ज करायी जाये। कहा कि किसी भी दशा में जनपद में एक भी पराली जलने की घटना न घटित होने पाए ,इसके लिए नोडल अधिकारी व ग्राम स्तरीय अधिकारियों द्वारा निरंतर भ्रमण सील रहकर क्षेत्रों पर नजर रखी जाए। कहा कि जनपद में अब पराली जलने पर संबंधित ग्राम स्तर के अधिकारी/कर्मचारी व ग्राम प्रधान पर कार्रवाई की जाएगी तथा संबंधित अन्य उच्चाधिकारियों को भी प्रतिकूल प्रविष्टि दी जाएगी। जिलाधिकारी ने कहा कि सहभागिता योजना के अंतर्गत लोगों को अन्ना गोवंश गोद लेने हेतु प्रोत्साहित किया जाए तथा लाभार्थियों को जो गौवंश सुपुर्द किए गए हैं उनका सत्यापन कर प्रत्येक माह उसका भुगतान किया जाए। कहा कि जनपद में एक भी अन्ना गोवंश सड़क पर नहीं दिखना चाहिए इसके लिए सभी अन्ना गौवंशों को गौशालाओं में ही संरक्षित किया जाए तथा आने वाली ठंड के दृष्टिगत गौशालाओं में टीनशेड/तिरपाल आदि की व्यवस्था कर ली जाय। किसी भी दशा में ठंड से एक भी गोवंश मृत्यु/दुर्घटना का शिकार ना होने पाए। सभी गौशालाओं में कंपोस्ट पिट खुदवाया जाए। ऑपरेशन कायाकल्प के अंतर्गत पंचायत भवनों के अनुरक्षण, प्राथमिक विद्यालयों आदि का अनुरक्षण किया जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि सामुदायिक शौचालयों का निर्माण समयबद्ध व गुणवत्तापूर्ण ढंग से सुनिश्चित किया जाए। सभी बीडीओ द्वारा अपने क्षेत्र के सामुदायिक शौचालयों का निरीक्षण कर गुणवत्ता व डिजाइन आदि की जांच की जाय। कौशल विकास मिशन के अंतर्गत अधिक से अधिक युवाओं को प्रशिक्षण दिलाकर रोजगार दिलाया जाए। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के लिए लक्ष्य के अनुसार जोड़ो का चिन्हांकन कर लिया जाए। निर्माण कार्यों की समीक्षा में जिलाधिकारी ने कहा कि बजट के अनुसार भौतिक प्रगति प्राप्त की जाए सभी प्रकार के निर्माण कार्य समयबद्ध ढंग से पूर्ण किया जाए इसमे गुणवत्ता का विशेष ध्यान दिया जाए। मुख्यमंत्री घोषणाओं से संबंधित कार्य प्राथमिकता के साथ किए जाएं। जिलाधिकारी ने कहा कि मनरेगा के तहत 100 दिन का काम पाने वाले मजदूरों का श्रम विभाग में पंजीयन किया जाय, इसके लिए सभी विकास खंडों में नियमित रूप से कैंप लगाए जाएं। कहा कि सभी विभागों द्वारा बजट की उपलब्धता पर प्रत्येक माह विद्युत बिल का भुगतान कराया जाए, इसको पेंडिंग में रखा जाए, बजट उपलब्ध ना होने पर इसकी डिमांड की जाए तथा बजट की उपलब्धता के संबंध में सभी विभागों द्वारा कल शाम तक सर्टिफिकेट उपलब्ध कराया जाए। हिन्दुस्थान समाचार/पंकज/-hindusthansamachar.in