सपा का आरोप, उप्र में गन्ना किसानों के बकाये में लगातार हो रहा इजाफा
सपा का आरोप, उप्र में गन्ना किसानों के बकाये में लगातार हो रहा इजाफा
उत्तर-प्रदेश

सपा का आरोप, उप्र में गन्ना किसानों के बकाये में लगातार हो रहा इजाफा

news

लखनऊ, 17 जुलाई (हि.स.)। उत्तर प्रदेश की प्रमुख विपक्षी समाजवादी पार्टी (सपा) ने आरोप लगाया है कि राज्य के गन्ना किसानों का बकाया लगातार बढ़ता जा रहा है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने शुक्रवार को यहां कहा कि स्वयं गन्ना मंत्री ने स्वीकार किया है कि गन्ना किसानों का चीनी मिलों में 13,380 करोड़ रूपये बकाया है। नरेश उत्तम ने कहा कि फरवरी में विधान परिषद के अंदर गन्ना मूल्य बकाये की समाजवादी पार्टी द्वारा नियम 105 में उठायी गई सूचना पर गन्ना मंत्री ने कहा था कि शीघ्र पाई-पाई बकाया गन्ना मूल्य का भुगतान करा दिया जायेगा। इसके बाद करीब छह माह बीतने को हैं लेकिन गन्ना किसानों का बकाया अभी तक नहीं दिया गया। सपा नेता ने कहा कि मार्च 2017 में सरकार बनते ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा भी घोषणा की गई थी कि 14 दिन में गन्ना किसानों को गन्ना मूल्य का भुगतान कर दिया जाएगा। इसके बाद विधानसभा में भी शीघ्र गन्ना मूल्य भुगतान करने की बात दोहराई गयी थी। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार को पदारूढ़ हुए साढ़े तीन वर्ष बीत रहे हैं परन्तु गन्ना किसानों का बकाया लगातार बढ़ता जा रहा है जो चिन्ता का विषय है। उत्तम ने कहा कि एक तरफ सरकार कोरोना वैश्विक महामारी में आत्म निर्भर भारत का सब्जबाग दिखाने में लगी है। उसने बेरोजगारों को कृषि क्षेत्र में रोजगार देने की हवा हवाई बातें कर किसानों, नवजवानों को गुमराह कर दयनीय आर्थिक स्थिति में पहुंचा कर डिप्रेशन में जीने पर मजबूर कर दिया। आये दिन किसान, नवजवानों की आर्थिक परेशानी से आत्महत्या की सूचनायें अखबारों की सुर्खियों में रहती है। समाजवादी पार्टी व संगठनों द्वारा किसानों के गन्ना मूल्य के बकाये का भुगतान करने की मांग सरकार को ज्ञापन द्वारा लगातार की जा रही है परन्तु सरकार द्वारा कोरे आश्वासन दिये जाते हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी की आनेवाली विभीषिका के बारे में फरवरी में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने लोकसभा से लेकर मीडिया के माध्यम से सरकार से सही कदम उठाने की बात कही थी परन्तु भाजपा के नेताओं ने अहंकार में उस पर ध्यान नहीं दिया। उन्होंने कहा कि 21 दिन का लाॅकडाउन कर कोरोना भगाने के लिये ताली, थाली बजवाकर नाटक किया गया तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दुनिया का महानायक होने के विज्ञापन दिखाये गए। भाजपा सरकार ने महंगाई बढ़ाकर आम आदमी को परेशानी में डाल दिया है। दवा के अभाव से मरीज दम तोड़ रहे हैं। इलाज तथा दवा की उचित व्यवस्था न होने से उत्तर प्रदेश में कोरोना बीमारों की संख्या में प्रतिदिन वृद्धि चिन्ता का विषय है। सपा नेता ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार की असफलता दिन के उजाले की तरह साबित हो गई है। हिन्दुस्थान समाचार/ पीएन द्विवेदी/राजेश-hindusthansamachar.in