संजीवनी ओपीडी एप से घर बैठे ले सकेंगे डाक्टर से परामर्श
संजीवनी ओपीडी एप से घर बैठे ले सकेंगे डाक्टर से परामर्श
उत्तर-प्रदेश

संजीवनी ओपीडी एप से घर बैठे ले सकेंगे डाक्टर से परामर्श

news

-ई विशेषज्ञ डाक्टरों से भी लिया जा सकेगा परामर्श गाजियाबाद, 30 जुलाई (हि.स.)। कोरोना काल में लोग अस्पताल जाने से कतरा रहे हैं। दरअसल अस्पताल के साथ ही आने-जाने में भी संक्रमण का खतरा है। इसी खतरे को कम करने के उद्देश्य से भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा तैयार किये गए ई संजीवनी एप के जरिए घर बैठे डाक्टर से परामर्श लिया जा सकता है। इसके लिए आपको बस अपने स्मार्ट मोबाइल फोन में ई संजीवनी एप डाउनलोड करना होगा। जिला अधिकारी डा. अजय शंकर पांडेय ने बताया मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ई संजीवनी एप का व्यापक प्रचार प्रसार करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने जनपद वासियों से अपील की है कि अपने मोबाइल में यह एप डाउनलोड कर लें और जरूरत पड़ने पर घर बैठे डाक्टर से परामर्श लें। कोरोना काल में तकनीक का इस्तेमाल बड़ा जरूरी है। तकनीक का इस्तेमाल करते हुए कोरोना वायरस को आसानी से मात दी जा सकती है। ई संजीवनी एप पर पीएमएस यानी प्रांतीय चिकित्सा सेवा संवर्ग से जुड़े डाक्टर उपलब्ध हैं। इस एप के जरिए घर बैठे उनसे किसी भी तरह की तकलीफ होने पर परामर्श लिया जा सकता है। जो मरीज लंबे उपचार में हैं और कोरोना के डर से अस्पताल नहीं जाने के चलते दवा बीच में छूट गई है, उनके लिए भी यह एप संजीवनी का काम करेगा और घर बैठे ही डाक्टर से बात करने के बाद दवा जारी रखी जा सकेगी। कई लोग ऐसे भी हैं, जो वायरस के डर से अपनी बीमारी को दबाए बैठे हैं, उनके लिए भी यह एप संकट मोचक का काम करेगा। इसके अलावा होम आइसोलेशन में रह रहे लोग भी इस एप का सहारा ले सकते हैं। इस सुविधा को सरकार 'स्टे होम ओपीडी' का नाम दिया है। ई संजीवनी ओपीडी एप को प्ले स्टोर में जाकर डाउनलोड किया जा सकता है। इस एप में पंजीकरण करते ही आपका टोकन नंबर जेनरेट हो जाएगा। एप पर ऑनलाइन उपलब्ध डॉक्टरों के नाम आप देखकर उनमें से किसी को चुन सकेंगे। डाक्टर का चुनाव करते ही वह वीडियो कॉल से कनेक्ट हो जाएंगे। एप पर उपलब्ध चिकित्सकों में फिजीशियन, स्त्री रोग विशेषज्ञ, ईएनटी सर्जन, नेत्र रोग विशेषज्ञ, जनरल सर्जन समेत विभिन्न विधाओं के चिकित्सकों को जोड़ा गया है। अगर किसी के पास फोन नहीं है तो वह स्थानीय हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर जाकर सीएचओ के टैबलेट की मदद से परामर्श प्राप्त कर सकता है। ओपीडी की टाइमिंग : ई संजीवनी ओपीडी एप पूरे देश में काम कर रहा है। हर सूबे के लिए अलग-अलग समय सारिणी एप पर उपलब्ध है। उत्तर प्रदेश में ई संजीवनी ओपीडी एप पर जनरल ओपीडी सोमवार से शनिवार तक रोजाना सुबह 9 बजे से सायं 4 बजे तक उपलब्ध रहेगी। जबकि बाल रोग विशेषज्ञ, पल्मोनरी, हड्डी रोग विशेषज्ञ, नेत्र रोग विशेषज्ञ और मनोरोग विशेषज्ञ की ओपीडी के लिए सोमवार से शनिवार तक दोपहर 2 से 4 सायं तक का समय निर्धारित है। हिन्दुस्थान समाचार /फरमान अली --hindusthansamachar.in