शॉर्ट सर्किट से लगी आग में मां सहित दो मासूम बच्चों की जलकर मौत
शॉर्ट सर्किट से लगी आग में मां सहित दो मासूम बच्चों की जलकर मौत
उत्तर-प्रदेश

शॉर्ट सर्किट से लगी आग में मां सहित दो मासूम बच्चों की जलकर मौत

news

जौनपुर, 12 सितंबर (हि.स.)। मड़ियाहूं कोतवाली थाना क्षेत्र के सोईथा दलित बस्ती में शनिवार की दोपहर शॉर्ट सर्किट से आग लग जाने से कमरे में सो रही सविता देवी (30) व उसका पुत्र दीवांश (3 वर्ष ) की मौके पर ही मौत हो गई व दिग्विजय (नौ माह) गंभीर रूप से झुलस जाने से अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई।घटना से परिजनों में कोहराम मच गया है। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस और एसडीएम मौके पर पहुंचकर घटनास्थल का निरीक्षण किया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।सोईथा गांव निवासी मनोज गौतम की पत्नी सविता नहा धोकर घर का काम करने के बाद दोपहर में पति मनोज गौतम के पोखरे पर नहाने चले जाने के बाद पत्नी सविता ने अपने दो बच्चे दीवान 3 वर्ष दिग्विजय 8 वर्ष को लेकर अपने कमरे में कूलर चला कर सो गई। थोड़ी देर बाद अचानक बिजली तेज हो गए और कूलर में शॉर्ट सर्किट से कमरे में आग लग गई। धूंआ निकलते देख सविता की सासु कमरे की तरफ गई और धक्का मारकर कमरे का दरवाजा खोला तो कमरे में आग एवं धुआं के सिवा कुछ नहीं दिखाई पड़ रहा था। बूढ़ी सास ने चिल्लाना शुरू किया तो आसपास के लोग जूटकर किसी तरह तीनों को बाहर निकाला। जिसमें मां सविता 30 वर्ष, बेटा दीवान 3 वर्ष की मौके पर मौत हो चुकी थी जबकि 8 माह का दूध मुहा बच्चा दिग्विजय की सांसे चल रही थी, परिजन तुरंत मड़ियाहूं सीएचसी इलाज के लिए ले गए जहां रास्ते में उसकी मौत हो गई। सूचना पर पहुंचे कोतवाल पवन कुमार उपाध्याय एवं क्षेत्राधिकारी मड़ियाहूं राजेंद्र प्रसाद शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है। घटना के संबंध में मृतका के साथ लालती देवी ने बताया कि उनकी बहू स्नान कर अपने कमरे में बच्चों को लेकर आराम करने गई थी कि अचानक लाइट आने से कमरे में आग लग गई जब तक वह कुछ समझ पाती और कमरे में गई तब तक आग काफी चल चुकी थी। उनका बेटा नहाने कहीं गया हुआ था। शोर सुनकर आसपास के लोग इकट्ठा हुए आग को बुझाया गया है, तब तक सब की मौत हो गई। इस मामले में मौके पर पहुंचे एसडीएम ने बताया कि जानकारी हुई है यहां पर आकर देखा तो शॉर्ट सर्किट से लगी आग में एक 30 वर्षीय महिला और उसके दो बच्चों की मौत हो चुकी है । आग के कारण मौत के मामले में तहसीलदार को बोल दिया गया है। उनके द्वारा मुख्यमंत्री दुर्घटना बीमा योजना के तहत से जो भी संभव मदद होगी दिलवाए जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार/विश्व प्रकाश/उपेन्द्र-hindusthansamachar.in