शातिर असलहा तस्कर प्रिंस की हत्या में शामिल शूटरों की हुई पहचान, 25-25 हजार का इनाम घोषित
शातिर असलहा तस्कर प्रिंस की हत्या में शामिल शूटरों की हुई पहचान, 25-25 हजार का इनाम घोषित
उत्तर-प्रदेश

शातिर असलहा तस्कर प्रिंस की हत्या में शामिल शूटरों की हुई पहचान, 25-25 हजार का इनाम घोषित

news

वाराणसी, 16 सितम्बर (हि.स.)। पिछले दिनों चौकाघाट कालीमंदिर के समीप शातिर अपराधी गैंगेस्टर, असलहा तस्कर अभिषेक सिंह प्रिंस और राहगीर ट्राली चालक को गोलियों से छलनी करा देने वाले सूत्रधार (मास्टर माइंड) के न्यायालय में आत्म समर्पण करने के बाद घटना के पर्दाफाश की उम्मीद जग गई है। दोहरे हत्याकांड में शामिल चार शूटरों के चिहिंत होने केे बाद एसएसपी ने उन पर 25-25 हजार रूपये इनाम भी घोषित कर दिया है। एसएसपी ने बदमाशों पर इनाम घोषित करने के बाद चारों के गिरफ्तारी के लिए टीम भी गठित कर दिया है। बुधवार को गठित टीम एक्शन में आ गई। एसएसपी अमित पाठक के अनुसार दोहरे हत्याकांड का शीघ्र पर्दाफाश हो जायेगा। प्रिंस को मौत के घाट उतारने में शामिल शूटरों में बड़ागांव थाना क्षेत्र के सेमरी निवासी हेमंत सिंह, आजमगढ़ मेहनगर थाना के जियासड़ निवासी रवि प्रताप सिंह उर्फ सम्मी, जौनपुर लाइन बाजार थाना के कुद्दूपुर निवासी अतुल विश्वकर्मा और जौनपुर केराकत के पहाड़ी पट्टी निवासी विजेंद्र सिंह उर्फ बब्बू है। शातिर अपराधी प्रिंस की जौनपुर निवासी और यूपी कालेज के छात्रनेता रहे विवेक सिंह कट्टा से पुरानी अदावत रही। प्रिंस ने कट्टा पर गोली चलवाई थी। लेकिन घायल होने के बाद स्वस्थ होने पर अभिषेक सिंह हनी गैंग का सदस्य कट्टा अभिषेक सिंह को मारने के चक्कर में काफी समय से लगा था। मौका मिलते ही उसने शूटरों की मदद से प्रिंस को मौत के घाट उतरवा दिया। गोलीबारी की चपेट में आने पर राहगीर ट्राली चालक की भी गोली लगने से मौत हो गई। जबकि प्रिंस के साथी का इलाज अस्पताल में चल रहा है। हिन्दुस्थान समाचार/श्रीधर/दीपक-hindusthansamachar.in