विश्वकर्मा दिवस को सार्वजनिक अवकाश घोषित करने की मांग
विश्वकर्मा दिवस को सार्वजनिक अवकाश घोषित करने की मांग
उत्तर-प्रदेश

विश्वकर्मा दिवस को सार्वजनिक अवकाश घोषित करने की मांग

news

बागपत, 07 सितम्बर (हि.स.)। अखिल भारतीय विश्वकर्मा शिल्पकार महासभा के तत्वावधान में सोमवार को जिलाधिकारी बागपत को एक ज्ञापन दिया और मांग की कि 17 सितम्बर को विश्वकर्मा पूजा दिवस मनाते हुए इस दिन को सार्वजनिक अवकाश घोषित किया जाए। जिला अध्यक्ष रूपचन्द विश्वकर्मा के नेतृत्व में सोमवार को विश्वकर्मा समाज के लोगों ने 17 सितम्बर को विश्वकर्मा पूजा दिवस पर सार्वजनिक अवकाश घोषित करने के लिए उत्तर प्रदेश के राज्यपाल के नाम जिला अधिकारी बागपत को ज्ञापन दिया। इसमें कहा गया है कि 17 सितम्बर को प्रतिवर्ष पूरे देश में भगवान विश्वकर्मा का पूजा दिवस मनाया जाता है। इस अवसर पर विश्वकर्मा समाज के लोहे और लकड़ी के काम करने वाले सभी दुकानदार, कारीगर, इंजीनियरिंग उद्योगों एवं तकनीकी संस्थानों मे काम करने वाले अधिकारी तथा कर्मचारी अपना कार्य बन्द करके धूमधाम से केवल भगवान विश्वकर्मा की पूजा करते हैं । पूर्व में समाजवादी पार्टी की सरकार में दो बार 17 सितम्बर को भगवान विश्वकर्मा पूजा दिवस पर सार्वजनिक अवकाश घोषित किया जा चुका है लेकिन प्रदेश की वर्तमान सरकार ने सार्वजनिक अवकाश निरस्त कर दिया। सरकार का यह निर्णय भगवान विश्वकर्मा व सम्पूर्ण समाज के सम्मान व स्वाभिमान के विरुद्ध है। इस मौके पर रमेश विश्वकर्मा, ओमबीर विश्वकर्मा, प्रधान रविदत्त विश्वकर्मा, ओमप्रकाश विश्वकर्मा, रामकुमार विश्वकर्मा, प रजनीश विश्वकर्मा, देव विश्वकर्मा, राहुल विश्वकर्मा आदि मौजूद रहे। हिन्दुस्थान समाचार/ सचिन त्यागी-hindusthansamachar.in