विंध्यवासिनी मंदिर में सोशल डिस्टेंसिंग तार-तार, सुरक्षाकर्मी बने मूकदर्शक
विंध्यवासिनी मंदिर में सोशल डिस्टेंसिंग तार-तार, सुरक्षाकर्मी बने मूकदर्शक
उत्तर-प्रदेश

विंध्यवासिनी मंदिर में सोशल डिस्टेंसिंग तार-तार, सुरक्षाकर्मी बने मूकदर्शक

news

मीरजापुर, 23 जुलाई (हि.स.)। विंध्याचल धाम पुलिस कर्मियों की लापरवाही के चलते मंदिर में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए निर्धारित नियम तार-तार हो रहे हैं। श्रद्धालु बिना सोशल डिस्टेंसिंग के गठरी व बैग लिए गर्भगृह तक पहुंच रहे हैं। कुछ ऐसे भी भक्त हैं जो मास्क भी नहीं लगाते। विंध्याचल वासियों को डर है कि कहीं यह लापरवाही भारी न पड़ जाए। नगर विधायक पं.रत्नाकार मिश्र भी पुलिस की बेपरवाही पर सवाल उठा चुके हैं। सावन के महीने में मां विंध्यवासिनी के दरबार में प्रतिदिन हजारों की संख्या में भक्त माता के दर्शन-पूजन करने आ रहे हैं। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए तमाम प्रशासनिक व्यवस्था के बाद भी श्रद्धालु लापरवाह बने हुए हैं। कोरोना संक्रमण से बचाव के सारे बंदोबस्त सुनिश्चित उपाय करने के लिए विंध्य पण्डा समाज एवं जिला प्रशासन की बैठकों का दौर चला। मंदिर में प्रवेश को लेकर तमाम रणनीति भी बनाई। परिसर में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन, मास्क, सेनेटाइजर, थर्मल स्क्रीनिंग आदि व्यवस्था की गई। लेकिन मौजूदा समय में सभी कुछ बेमानी साबित हो रहा है। पुलिसकर्मी मंदिर पर 24 घंटे तैनात रहते हैं। लेकिन सुरक्षा के नाम पर पुलिसकर्मियों में ही सतर्कता नदारद है। हिन्दुस्थान समाचार/गिरजा शंकर/विद्या कान्त-hindusthansamachar.in