विंध्यवासिनी दरबार में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़
विंध्यवासिनी दरबार में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़
उत्तर-प्रदेश

विंध्यवासिनी दरबार में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

news

-प्रत्येक शुक्रवार को रहती है इसी तरह भीड़, व्यवस्था नहीं कर पा रही पुलिस मीरजापुर, 31 जुलाई (हि.स.)। विंध्यवासिनी के दरबार में शुक्रवार को दर्शन पूजन के लिए भक्तों की भारी भीड़ रही। इससे सोशल डिस्टेसिंग तार-तार नजर आयी। मंदिर परिसर ही नहीं बल्कि विंध्यधाम की गलियों में भी बड़ी संख्या में भक्तों के आ जाने के कारण जाम की स्थिति रही। विंध्यधाम के तीर्थ पुरोहितों का कहना है कि शनिवार और रविवार को लॉकडाउन के कारण मंदिर पर दर्शन पूजन भी बंद रहता है। इसी के चलते प्रत्येक शुक्रवार को भीड़ हो जाती है। इसके बावजूद पुलिस प्रशासन कोई व्यवस्था नहीं कर पा रहा है। सावन माह की पूर्णिमा सोमवार को है। शनिवार और रविवार को लॉकडाउन रहता है। इन दो दिनों में मां विंध्यवासिनी का मंदिर तो खुला रहता है पर दर्शन पूजन आम लोगों को नहीं करने दिया जाता है। इलाकाई पुलिस दूधनाथ तिराहे से ही मंदिर की तरफ जाने वाले रास्ते को अवरूद्ध कर देती है। इसी को ध्यान में रखकर शुक्रवार को मां विंध्यवासिनी के दरबार में लगभग एक लाख श्रद्धालु दर्शन पूजन के लिए पहुंच गए। सुबह मंगला आरती के बाद भक्तों के आने का सिलसिला शुरु हुआ तो दिन ढलने के साथ ही बढ़ता ही गया। स्थिति यह हो गयी कि दोपहर में मंदिर परिसर में तिल रखने की भी जगह नहीं रही। मंदिर परिसर में श्रद्धालु एक दूसरे से सट कर खड़े हो गए थे। इससे सोशल डिस्टेसिंग तार-तार नजर आयी। विंध्यधाम की गलियों में भी श्रद्धालुओं के आवागमन के चलते जाम की स्थिति रही। वहीं पुलिस प्रशासन इस संबंध में कोई ठोस कदम नहीं उठा पाया। मंदिर पर भी एक-दो पुलिस कर्मियों को छोड़ अन्य पुलिस कर्मी प्रशासनिक भवन में बैठे रहे। हिन्दुस्थान समाचार/गिरजा शंकर/उपेन्द्र-hindusthansamachar.in