वाराणसी : मुठभेड़ में मारे गए 50 हजार के इनामी बदमाश मोनू चौहान का साथी जेपी को भी पुलिस ने पकड़ा
वाराणसी : मुठभेड़ में मारे गए 50 हजार के इनामी बदमाश मोनू चौहान का साथी जेपी को भी पुलिस ने पकड़ा
उत्तर-प्रदेश

वाराणसी : मुठभेड़ में मारे गए 50 हजार के इनामी बदमाश मोनू चौहान का साथी जेपी को भी पुलिस ने पकड़ा

news

वाराणसी, 22 नवम्बर (हि.स.)। सारनाथ थाना क्षेत्र के रिंग रोड पर रविवार की देर शाम मुठभेड़ में मारे गये पचास हजार के इनामी मोनू चौहान के साथी जय प्रकाश पाण्डेय उर्फ जेपी को लालपुर-पाण्डेयपुर पुलिस टीम ने शनिवार की देर कैण्ट स्टेशन के पास से गिरफ्तार कर लिया था। माना जा रहा है कि जेपी से पूछताछ के बाद पुलिस टीम को मोनू के बारे में सटीक जानकारी मिल गई थी। रविवार की शाम एसएसपी के सोशल मीडिया सेल के प्रभारी ने बताया कि शातिर बदमाश अब मृत मोनू उर्फ मोनी उर्फ अरविन्द चौहान व अनिल यादव को प्रश्रय/संरक्षण देने, आर्थिक सहयोग तथा पुलिस से बचने में मदद करने वाले सहयोगी बदमाश जय प्रकाश पाण्डेय उर्फ जेपी पुत्र शैलेश कुमार पाण्डेय को कैण्ट स्टेशन के पास से गिरफ्तार किया गया। जेपी ने पूछताछ में पुलिस टीम को बताया कि मोनू चौहान उसका पुराना परिचित रहा। उसके द्वारा अपराध से अर्जित किये गये धन से हम लोग ऐशो-आराम की जिन्दगी व्यतीत करते है। जेपी को मोनू ने बताया था कि 13 नवम्बर को उसने गोइठहा गांव में एक व्यक्ति से 20 हजार रुपये लूटते समय गोली मारी थी। बैरीवन में अपने परिचय की एक महिला को दीपावली के अगले दिन गोली मारी थी। हिन्दुस्थान समाचार/श्रीधर/मोहित-hindusthansamachar.in