लोकवाणी संचालकों और कर्मचारियों ने डीएम कार्यालय के बाहर भीख मांग किया प्रदर्शन
लोकवाणी संचालकों और कर्मचारियों ने डीएम कार्यालय के बाहर भीख मांग किया प्रदर्शन
उत्तर-प्रदेश

लोकवाणी संचालकों और कर्मचारियों ने डीएम कार्यालय के बाहर भीख मांग किया प्रदर्शन

news

कानपुर, 27 जुलाई (हि. स.)। लोकवाणी केंद्र बंद होने के विरोध में संचालकों ने सोमवार को जिलाधिकारी कार्यालय पर भीख मांगकर प्रदर्शन किया। इस दौरान ई-डिस्ट्रिक मैनेजर के खिलाफ जोरदार नारेबाजी भी की। हाथों में कटोरा लिए लोकवाणी संचालक अपना विरोध दर्ज करा रहे थे। प्रदर्शनकारियों ने बताया कि कोरोना में किये गए पूर्णबंदी जैसे खराब समय में उनके सामने रोजी-रोटी का खतरा मंडरा रहा है। तो वहीं ई डिस्ट्रिक मैनेजर ने एक कम्पनी को फायदा पहुंचाने के मकसद से सभी लोकवाणी केंद्र बंद कर दिए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी देश की जनता को आत्मनिर्भर बनाने के प्रयास कर रहे हैं। तो दूसरी ओर ई डिस्टिक मैनेजर जैसे अधिकारी लोगों की रोजी-रोटी छीनने के काम कर रहे हैं। आरोप लगाया गया कि लोकवाणी संचालकों से घूस मांगी जाती थी, ना देने पर ऐसा काम किया गया है। लोकवाणी केंद्र बंद होने से सभी लोग बेरोजगार हो गए हैं इसलिए भीख मांगकर आजीविका चलाने का प्रयास कर रहे हैं। वहीं ऋत्विक पांडेय (प्रदर्शनकारी) ने बताया कि मैं आठ वर्षों से लोकवाणी केंद्र में कार्यरत हूं। दिनांक 24 जुलाई को बिना कोई सूचना और बिना कोई कारण लोकवाणी केंद्र बन्द कर दिया गया। जिसके लिए आज हम सभी कर्मचारी डीएम कार्यालय के बाहर जमा हुए है। और हम अपनी समस्याओं के लिए आज हाथ में कटोरा लेकर भीख मांगने को मजबूर हुए है। हिन्दुस्थान समाचार/हिमांशु-hindusthansamachar.in