लखनऊ पुलिस करती रही गश्त, इंजीनियर के मकान में पड़ी डकैती
लखनऊ पुलिस करती रही गश्त, इंजीनियर के मकान में पड़ी डकैती
उत्तर-प्रदेश

लखनऊ पुलिस करती रही गश्त, इंजीनियर के मकान में पड़ी डकैती

news

लखनऊ, 23 दिसम्बर(हि.स.)। उत्तर प्रदेश गन्ना विभाग के इंजीनियर योगेन्द्र श्रीवास्तव के विराज खण्ड स्थित मकान में मंगलवार की रात्रि डकैतों ने उनके परिवार के सदस्यों को बंधक बनाकर डकैती डाली। इंजीनियर के मकान पर इधर डकैती हुई, वहीं लखनऊ की विभूतिखंड पुलिस के तेजतर्रार उपनिरीक्षक, सिपाही बाहर उसी इलाके में गश्त करते रह गये। गोमती नगर के विराज खण्ड के चतुर्थ सेक्टर में गन्ना विभाग के मेरठ में कार्यरत इंजीनियर रहते हैं और वे मंगलवार को ही नौचण्डी एक्सप्रेस से मेरठ के लिए रवाना हुए थे। उनके रवानगी के बाद देर रात डकैतों ने उनके मकान पर धावा बोल दिया और पत्नी निशा, बेटी जीनिया सहित मकान में मौजूद पांच लोगों को बंधक बना लिया। रात्रि पहर डकैती करने के बाद सभी डकैत भाग निकले तो इंजीनियर की पत्नी निशा किसी प्रकार से खुद को छुड़ाकर अपने पति योगेन्द्र को पूरे मामले की जानकारी दी। इसके बाद मौके पर पहुंची विभूतिखंड थाने की पुलिस ने जांच पड़ताल की शुरुआत करते हुए डकैती के संबंध में पूरी जानकारी ली। इंजीनियर की पत्नी ने पुलिस को बताया है कि घर में मौजूद 70 हजार की नकदी, चार लाख के जेवरातों की डकैती हुई है। विभूतिखण्ड थाने की पुलिस के मुताबिक मकान के भीतर लगे सीसीटीवी कैमरों से फुटेज निकालने का प्रयास किया गया, लेकिन डकैतों ने कैमरों की फुटेज भी उड़ा दी है। वहीं मकान के भीतर लगा हुआ सेंसर भी मौके पर नहीं बजा है, जो किसी भी अपरिचित व्यक्ति के मकान में आने पर बजता था। पुलिस हर शिरे को जोड़ कर जांच पड़ताल कर रही है। हिन्दुस्थान समाचार/ शरद-hindusthansamachar.in