रवि किशन ने रेलवे अस्पताल को मेडिकल कॉलेज में बदलने का मुद्दा संसद में उठाया
रवि किशन ने रेलवे अस्पताल को मेडिकल कॉलेज में बदलने का मुद्दा संसद में उठाया
उत्तर-प्रदेश

रवि किशन ने रेलवे अस्पताल को मेडिकल कॉलेज में बदलने का मुद्दा संसद में उठाया

news

-स्टाफ की कमी पूरी करने की भी मांग गोरखपुर, 16 सितम्बर (हि.स.)। भाजपा सांसद रवि किशन ने ललित नारायण मिश्र केंद्रीय चिकित्सालय पूर्वोत्तर रेलवे (गोरखपुर) को मेडिकल कॉलेज के रूप में उच्चीकृत करने का मुद्दा बुधवार को लोकसभा में उठाया। सांसद रवि किशन ने कहा कि गोरखपुर का रेलवे चिकित्सालय भारत सरकार के रेल मंत्रालय के अधीन है। यह चिकित्सालय आमजन, रेलवे कर्मचारियों और उनके परिवारजनों की सेवा करता आ रहा है। इस अस्पताल में चिकित्सको और चिकित्सा कर्मियों की बहुत कमी है। इस कमी के कारण यहां आने वाले गंभीर रोगियों को दूसरे जगह स्थानांतरित करना पड़ता है। यदि इसे मेडिकल कॉलेज के रूप में विकसित किया जाए तो यहां कर्मचारीयो के इलाज और छात्रों को चिकित्सा की पढ़ाई का सौभाग्य प्राप्त होगा। मैं रेल मंत्री से इस कार्य को करने की अनुरोध करता हूं। सांसद ने कहा कि मेडिकल कॉलेज का दर्जा मिलने के बाद पूर्वांचल के कई जिलों के छात्रों को शिक्षा के लिए बाहर नहीं जाना पड़ेगा। इससे गोरखपुर के विकास के साथ जनपद से सटे कई जिलों का भी विकास और तेजी से होगा। इससे पहले 23 सितम्बर 2019 को सांसद ने डिवीज़न कॉमेंटी लखनऊ की बैठक में यह मुद्दा उठाया था। हिन्दुस्थान समाचार/पुनीत/दीपक-hindusthansamachar.in