योगी नवरात्रि के पहले दिन करेंगे 'मिशन शक्ति' का शुभारम्भ
योगी नवरात्रि के पहले दिन करेंगे 'मिशन शक्ति' का शुभारम्भ
उत्तर-प्रदेश

योगी नवरात्रि के पहले दिन करेंगे 'मिशन शक्ति' का शुभारम्भ

news

-महिला-बालिका सुरक्षा व सम्मान को फरवरी, 2021 तक चलाया जायेगा कार्यक्रम -4.35 लाख इकाइयों को 10,727 करोड़ के ऋण स्वीकृत कर किए जा रहे वितरित लखनऊ, 16 अक्टूबर (हि.स.)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को नवरात्रि के पहले दिन महिला सुरक्षा सम्मान एवं स्वावलम्बन योजना 'मिशन शक्ति' का शुभारम्भ करेंगे। मिशन शक्ति में महिलाओं और बालिकाओं के सुरक्षा, सम्मान व उनके स्वावलम्बन के विभिन्न योजनाओं के संबंध में जागरूकता के कार्यक्रम चलाए जाएंगे। यह कार्यक्रम फरवरी, 2021 तक चलाया जायेगा। अपर मुख्य सचिव, नवनीत सहगल ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम के तहत सरकार की विभिन्न योजनाओं जिससे महिलाओं और बालिकाओं को लाभान्वित किया जाता है, उसके बारे में उन्हें जानकारी दी जायेगी व जागरूक किया जाएगा। शक्ति मिशन के माध्यम से जनपदों में विभिन्न जागरूकता एवं राज्य सरकार की योजनाओं से लाभान्वित किये जाने के विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये जाएंगे। अपर मुख्य सचिव ने बताया कि इसके साथ ही प्रदेश में औद्योगिक गतिविधियां तेजी से संचालित हो रही है। औद्योगिक गतिविधियों को कोरोना काल के पूर्व की भांति सुचारू रूप से संचालित हो इसके लिए सरकार तेजी से प्रयास कर रही है। सूक्ष्म, लघु, मध्यम एवं वृहद श्रेणी की 8,18,179 इकाइयां क्रियाशील हैं, जिनमें 51.78 लाख श्रमिक कार्यरत हैं। प्रदेश में अब तक संचालित 4.35 लाख इकाइयों को आत्मनिर्भर पैकेज के अन्तर्गत 10,727 करोड़ के ऋण स्वीकृत कर वितरित किये जा रहे हैं। आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार-स्वरोजगार सृजन अभियान में इस वित्तीय वर्ष में 14 मई से आजतक 5.40 लाख नई एमएसएमई इकाईयों को 15,246 करोड़ के ऋण वितरण किया गया है। इसके साथ ही प्रदेश में वर्तमान में 4000 धान क्रय केन्द्र स्थापित है। अब तक 56,170.83 मीट्रिक टन धान की खरीद सुनिश्चित की जा चुकी है। जबकि गत वर्ष इस अवधि में धान की खरीद 2301.16 मी.टन की गयी थी। प्रदेश के किसानों को पराली न जलाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है और उन्हें पराली जलाने से होने वाले प्रदूषण के बारे में जानकारी भी दी जा रही है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में कन्टेनमेंट जोन व हाॅटस्पाॅट जोन में लगातार गिरावट आ रही है। वर्तमान मे प्रदेश में 13,217 हाॅटस्पाॅट एरिया तथा 13,309 कन्टेनमेंट जोन है। हिन्दुस्थान समाचार/संजय-hindusthansamachar.in