मेरठ मंडल को वायु प्रदूषण से मुक्त कराएं : अनीता सी मेश्राम
मेरठ मंडल को वायु प्रदूषण से मुक्त कराएं : अनीता सी मेश्राम
उत्तर-प्रदेश

मेरठ मंडल को वायु प्रदूषण से मुक्त कराएं : अनीता सी मेश्राम

news

मेरठ, 14 अक्टूबर (हि.स.)। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में वायु प्रदूषण की रोकथाम हेतु पर्यावरण प्रदूषण नियंत्रण अधिकरण (ईपीसीए) द्वारा निर्धारित ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान (ग्रेप) 15 अक्टूबर से लागू होगा। आयुक्त अनीता सी मेश्राम ने कहा कि मेरठ मंडल को वायु प्रदूषण से मुक्त कराया जाए। यहां पर पराली जलाने की घटनाएं नहीं होनी चाहिए। ग्रेप के प्रभावी क्रियान्वयन के संबंध में बुधवार को आयुक्त सभागार में मण्डलीय समीक्षा बैठक आयोजित की गई। आयुक्त अनीता सी मेश्राम ने प्रदूषण की रोकथाम के लिए सभी संबंधित 12 विभागों के अधिकारी विभागीय समन्वय के साथ टीम बनाकर कार्य करने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि अधिकारी, उद्यमी व कार्यदायी संस्था के प्रतिनिधि समीर ऐप अपने-अपने मोबाईल में डाउनलोड करें। आयुक्त कृषि विभाग के अधिकारियों से कहा कि मेरठ मंडल के किसी जनपद में पराली जलाने की घटनाएं न हो। ऐसा करने वालों को समझाए। ना मानने पर नियमानुसार दंड लगाया जाए। मंडल में 10 साल से पुराने डीजल व 15 साल से पुराने पेट्रोल वाहनों पर नियमानुसार कार्रवाई की जाए। आयुक्त ने कहा कि मंडल के प्रत्येक जनपद में जनपद के एक मजिस्ट्रेट, प्रदूषण नियंत्रण विभाग के अधिकारी व अन्य विभागीय अधिकारी संयुक्त रूप से कन्स्ट्रक्शन साइट्स का निरीक्षण करें और कार्यदायी संस्थाओं के प्रतिनिधियों को वायु प्रदूषण रोकने के कदमों की जानकारी दी जाए। अगर उसके बाद भी वह नियमों का उल्लंघन करें तो कड़ी कार्रवाई की जाए। उद्योगों द्वारा प्रतिबंधित ईंधन का प्रयोग न किया जाए। आम जनता भी समीर ऐप व प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की वेबसाईट से वायु प्रदूषण की जानकारी ले सकते हैं। अपर जिलाधिकारी प्रशासन मदन सिंह गब्र्याल ने बताया कि वायु प्रदूषण की रोकथाम व माॅनीटरिंग के लिए मेरठ में 42 टीम बनाई गई है। मेरठ नगर निगम के आयुक्त अरविन्द चैरसिया ने बताया कि वायु प्रदूषण की रोकथाम के लिए नगर निगम द्वारा टीम बनाई गई है। 17 टैंकर से पानी का छिडकाव कराया जा रहा है तथा सडक किनारे बेची जा रही भवन सामग्री को जब्त करने के लिए अधिकारियों की टीम के साथ-साथ एक जेसीबी व ट्रक भी लगाया गया है। क्षेत्रीय प्रदूषण अधिकारी मेरठ योगेन्द्र कुमार ने बताया कि 16 कोल्हुओं को सील किया गया है। एक पेपर मिल पर कार्रवाई की जा रही है। उद्योगपुरम व शताब्दीनगर में एक-एक उद्योग की बंदी की कार्रवाई चल रही है। इस अवसर पर अपर आयुक्त रजनीश राय, नगर आयुक्त मेरठ अरविन्द चैरसिया, एडीएम प्रषासन मेरठ मदन सिंह गब्र्याल, सचिव एमडीए प्रवीणा अग्रवाल आदि मौजूद थे। हिन्दुस्थान समाचार/कुलदीप/दीपक-hindusthansamachar.in