मुंबई में कंगना रनौत का कार्यालय तोड़ने पर भड़की साध्वी प्राची
मुंबई में कंगना रनौत का कार्यालय तोड़ने पर भड़की साध्वी प्राची
उत्तर-प्रदेश

मुंबई में कंगना रनौत का कार्यालय तोड़ने पर भड़की साध्वी प्राची

news

-कहा, सोनिया की गोद में बैठी ठाकरे सरकार जाकिर और खान गैंग के अवैध निर्माण पर कोई कार्रवाई नहीं कर रही है बागपत, 10 सितम्बर (हि.स.)। साध्वी डा. प्राची दीदी ने गुरुवार को यहां शहर स्थित अपने आवास पर बयान जारी कर महाराष्ट्र सरकार पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि सोनिया गांधी की गोद में बैठी ठाकरे सरकार जाकिर नाइक और दाउद इब्राहिम गैंग के अवैध निर्माणों पर क्यों कार्रवाई नहीं करती है। उन्होंने कहा कि सुशांत के लिए न्याय मांगने वाली कंगना रनौत पर वह तानाशाही कर दबाव बनाने की कार्रवाई कर रही है। साध्वी ने कहा कि आज कंगना अपनी बेबाकी और सच्चाई का साथ देने को लेकर पूरे देश में चर्चा का विषय बनी हुई हैं। कहा कि महाराष्ट्र में 45 दिनों तक सुशांत केस में मुकदमा दर्ज नहीं हो पाया और न ही पालघर के संतों को आज तक न्याय मिल सका है। उन्होंने कहा कि बीएमसी की टीम आकर एक घंटे का नोटिस देती है और अवैध निर्माण की बात कहकर तीन घंटे में कंगना रनौत के कार्यालय को ध्वस्त कर देती है। साध्वी ने कहा कि वह पूछना चाहती हैं सोनिया गांधी की गोद में बैठे ठाकरे और ठाकरे सरकार से कि मुंबई की सड़कों पर दो सौ से ज्यादा मस्जिदें अवैध खड़ी हुई हैं। इतना ही नहीं सैकड़ों से ज्यादा मजारें खड़ी हुई हैं और खान गैंग की न जाने कितनी बिल्डिंग अवैध हैं। मातोश्री लीज पर है। वाड्रा का बंगला शिमला में है। उसकी भी तो जांच होनी चाहिए। साध्वी ने कहा कि जाकिर नाइक और दाउद, क्या ये सोनिया गांधी की गोद में बैठी सरकार के दामाद लगते हैं जो इन पर राज्य सरकार कार्रवाई नहीं करती है? उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में इतना सारा निर्माण अवैध चल रहा है और आधी मुंबई इस अवैध निर्माण की चपेट में है। इस पर भी जरूर कार्रवाई होनी चाहिए। अगर ऐसा नहीं होता तो स्पष्ट है कि महाराष्ट्र की सरकार न तो पालघर के संतों को न्याय नहीं दिलाना चाहती और न ही सुशांत केस में न्याय के लिए कोई प्रयास कर रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि महाराष्ट्र सरकार किसी न किसी शिखंडी को बचाने का प्रयास कर रही है। महाराष्ट्र के अंदर जल्द से जल्द राष्ट्रपति शासन लगे अन्यथा ये सोनिया की गोद में बैठी सरकार किसी बड़े हिन्दूवादी नेता की हत्या भी करा सकती है। हिन्दुस्थान समाचार/ गौरव साहनी/रामानुज-hindusthansamachar.in