मीरजापुर : विंध्याचल के रामगया घाट पर एक लाख लोगों ने किया तर्पण
मीरजापुर : विंध्याचल के रामगया घाट पर एक लाख लोगों ने किया तर्पण
उत्तर-प्रदेश

मीरजापुर : विंध्याचल के रामगया घाट पर एक लाख लोगों ने किया तर्पण

news

पुलिस की रोक के बावजूद पितरों का किया पिंडदान मीरजापुर, 17 सितम्बर (हि.स.)। पितृपक्ष अमावस्या तिथि पर गुरुवार को विन्ध्य क्षेत्र के रामगया घाट पर पितरो का तर्पण करने करीब एक लाख लोग पहुँचे। गंगा स्नान के पश्चात लोगों ने अपने पित्रो का तर्पण किया। बुधवार की शाम को पुलिस अधीक्षक ने कोविड 19 के दृष्टिगत रामगया घाट पर होने वाले आयोजन पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगा दिया था लेकिन सुबह होते ही भारी संख्या में लोग रामगया घाट पहुँच कर अपने पितरों का तर्पण किया। सुबह से शाम तक लोगो का तांता लगा रहा। सुबह गंगा घाट पर पहुचे लोगों ने गंगा स्नान करने के पश्चात मुंडन करवाया एव घाट पर ही पुरोहितों द्वारा खीर, जौ का आटा, खोआ इत्यादि से पिंडदान किया। घाट पर पुरोहित ओर नाईं काफी मात्रा में मौजूद थे। वही शिवपुर तिराहे से लेकर रामगया घाट तक दोनों पटरियों पर दुकाने सजी थी। एक दिन पहले लगाए गए प्रतिबन्ध के बाद भी बड़ी संख्या में लोगों तर्पण किया। क्षेत्र के पटेंगरा नाला चैराहा, शिवपुर फाटक पर पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई गई थी जिससे लोग घाट तक न पहुच पाए लेकिन खेतों के रास्ते लोग गंगा घाट पर पहुंच रहे थे। वहीं थानाध्यक्ष विंध्याचल शेषधर पांडेय पूरे क्षेत्र में भ्रमण कर लोगों से घर पर ही तर्पण करने की हिदायत दे रहे थे। अपर पुलिस अधीक्षक संजय कुमार सिंह ने दोपहर को रामगया घाट पहुँच कर माहौल का जायजा लिया। नगर विधायक के हस्तक्षेप पर मिली सहूलियत बुधवार को रामगया घाट पर प्रतिबंध के पश्चात भारी संख्या में दुकानदार तीर्थ पुरोहित व नगर विधायक रत्नाकर मिश्रा के आवास पहुँचे। दुकानदारों ने बताया कि दुकान लगाने के लिए माल खरीद चुके हैं औरं मेला न होने से भारी नुकसान की बात कही। नगर विधायक ने उच्च अधिकारियों से बात किया जिससे लोगों को कुछ सहूलियत मिली। हिन्दुस्थान समाचार/गिरजा शंकर/दीपक-hindusthansamachar.in